Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Karnataka Crisis LIVE: कुमारस्वामी को मिली राहत, स्पीकर ने बागियों के खिलाफ जारी किया नोटिस

कर्नाटक में एक बार फिर सियासी दांव पेच का तड़का लगता नजर आ रहा है। खबर है कि कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस की सरकार बच सकती है। लेकिन कुमारस्वामी मुख्यमंत्री होंगे या नहीं ये तो आज बहुमत साबित होने के बाद ही पता चलेगा।

Karnataka Crisis LIVE: JDS से नहीं अब कांग्रेस से होंगे नए सीएम, फ्लोर टेस्ट बाकीKarnataka Crisis live update floor test in assembly jds congress bjp

कर्नाटक में एक बार फिर सियासी दांव पेच का तड़का लगता नजर आ रहा है। खबर है कि कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस की सरकार बच सकती है। लेकिन कुमारस्वामी मुख्यमंत्री होंगे या नहीं ये तो आज बहुमत साबित होने के बाद ही पता चलेगा। खबर है कि जहां एक तरफ बीजेपी हर हाल में सरकार को गिराने की कोशिश में जुटी हुई है तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस जेडीएस किसी भी कीमत पर सरकार बचाने का सियासी गणित लगा रही है।

लाइव अपडेट -

कांग्रेस नेता और राज्य मंत्री डीके शिवकुमार कर्नाटक विधानसभा पहुंचे।

कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने कहा कि मुझे आज सत्तारूढ़ की तरफ होना पड़ेगा। मुझे देरी हो रही थी क्योंकि मैं सुप्रीम कोर्ट के आदेश की जांच कर रहा था।

कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने 23 जुलाई को सुबह 11 बजे अपने कार्यालय में सभी बागी विधायकों को बुलाया है। गठबंधन नेताओं द्वारा अयोग्य ठहराए जाने वाली याचिका पर नोटिस जारी किया गया।

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के दो निर्दलीय विधायकों की याचिका पर जल्द सुनवाई करने से इनकार कर दिया।

कर्नाटक के पूर्व सीएम और बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा बीजेपी विधायकों के साथ विधानसभा पहुंचे। थोड़ी देर में शुरु होगा फ्लोर टेस्ट।

बेंगलुरु में भाजपा विधायकों ने रामदा होटल से विधानसभा के लिेए रवाना हो गए हैं। एचडी कुमारस्वामी सरकार आज विधानसभा में फ्लोर टेस्ट का सामना करेगी।

कर्नाटक में जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन सरकार की अग्निपरीक्षा है। इसके अलावा कांग्रेस नेता शिव कुमार ने दांव चला है। उन्होंने कहा कि जेडीएस त्याग के लिए तैयार है और कांग्रेस से नया मुख्यमंत्री बन सकता है।

कर्नाटक में नाजुक कांग्रेस-जेडीएस सरकार के भाग्य का फैसला सोमवार को भी विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के बाद पता चलेगा। क्योंकि बागी विधायकों ने रविवार को अपने रुख से समझौता करने से इनकार कर दिया और मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने उनसे सदन में उपस्थित होने की अपील की है।

19 जुलाई को सरकार के बागी विधायकों को वापस बुलाने के लिए दो दिन के प्रयास के बाद सरकार ने बहुमत साबित करने के लिए राज्यपाल वजूभाई वाला द्वारा तय की गई दो समयसीमाएं खत्म कर दी है। अभी सभी बागी विधायक मुंबई में ही हैं।

वहीं भाजपा ने आरोप लगाया है कि कुमारस्वामी की सरकार गिराने के पीछे कांग्रेस ही षड्यंत्र रच रही है। शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कर्नाटक में भाजपा नहीं बल्कि कांग्रेस पार्टी ही मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के खिलाफ षड्यंत्र रचा रही है जिससे वहां अप्रिय स्थिति निर्मित हुई है।

Share it
Top