Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Kargil Vijay Diwas: राष्ट्रपति, पीएम मोदी और राहुल गांधी समेत इन नेताओं ने शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि, शाह ने किया ये ट्वीट

कारगिल विजय दिवस की 23वीं वर्षगांठ पर कारगिल संघर्ष में जान गंवाने वाले सैनिकों को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित अन्य नेताओं ने श्रद्धांजलि दी है।

Kargil Vijay Diwas: राष्ट्रपति, पीएम मोदी और राहुल गांधी समेत इन नेताओं ने शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि, शाह ने किया ये ट्वीट
X

Kargil Vijay Diwas 2022: भारत आज (26 जुलाई) कारगिल विजय दिवस (23th anniversary of Kargil Vijay Diwas) की 23वीं वर्षगांठ मना रहा है। कारगिल युद्ध (Kargil War), जिसे कारगिल संघर्ष (Kargil conflict) के रूप में भी जाना जाता है। दरअसल 1999 में पाकिस्तानी घुसपैठिए आतंकवादी और पाक सेना चोरी-छिपे कारगिल की पहाड़ियों में घुस आए थे। इसके बाद भारतीय सेना ने घुसपैठ के खिलाफ 'ऑपरेशन विजय' शुरू किया। भारतीय सेना ने घुसपैठियों को मौत के घाट उतार कर सफलतापूर्वक पहाड़ की ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया था। कारगिल विजय दिवस की 23वीं वर्षगांठ पर कारगिल संघर्ष में जान गंवाने वाले सैनिकों को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित अन्य नेताओं ने श्रद्धांजलि दी है।

अपने प्राण न्योछावर करने वाले सभी वीर सैनिकों को मैं नमन

राष्ट्रपति भवन के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, कारगिल विजय दिवस हमारे सशस्त्र बलों की असाधारण वीरता, पराक्रम और दृढ़ संकल्प का प्रतीक है। भारत माता की रक्षा के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाले सभी वीर सैनिकों को मैं नमन करती हूं। सभी देशवासी, उनके और उनके परिवारजनों के प्रति सदैव ऋणी रहेंगे। जय हिन्द!

कारगिल विजय दिवस मां भारती की आन-बान और शान का प्रतीक है

वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि कारगिल विजय दिवस मां भारती की आन-बान और शान का प्रतीक है। इस अवसर पर मातृभूमि की रक्षा में पराक्रम की पराकाष्ठा करने वाले देश के सभी साहसी सपूतों को मेरा शत-शत नमन। जय हिंद!

राजनाथ सिंह और तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कारगिल विजय दिवस के अवसर पर 1999 के कारगिल युद्ध में अपनी जान गंवाने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। राजनाथ सिंह के अलावा तीनों सेना प्रमुखों थल सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे, नौसेना प्रमुख एडमिरल आर. हरि कुमार और वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने दिल्ली में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक कारगिल दिवस के अवसर पर श्रद्धांजलि दी।

राजनाथ सिंह ने सशस्त्र बलों की बहादुरी, साहस और बलिदान को सलाम किया

राजनाथ सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि कारगिल विजय दिवस पर, भारत हमारे सशस्त्र बलों की बहादुरी, साहस और बलिदान को सलाम करता है। उन्होंने हमारी मातृभूमि की रक्षा के लिए अत्यंत कठोर परिस्थितियों में बहादुरी से लड़ाई लड़ी। उनकी वीरता और अदम्य भावना हमेशा भारत के इतिहास में एक निर्णायक क्षण के रूप में अंकित रहेगी।

कारगिल विजय दिवस भारतीय सशस्त्र बलों के अदम्य साहस और शौर्य का प्रतीक

राजनाथ सिंह के अलावा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट करते हुए लिखा कि कारगिल विजय दिवस भारतीय सशस्त्र बलों के अदम्य साहस और शौर्य का प्रतीक है। आज का दिन गौरवान्वित होने के साथ ही हमारे जवानों की वीरता का स्मरण कर उसका सम्मान करने का भी दिन है। अपनी बहादुरी से कारगिल से दुश्मनों को खदेड़कर पुन: तिरंगा लहराने वाले जवानों को हृदय से नमन करता हूं।

राहुल गांधी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए, हमारे जांबाज़ जवानों ने कारगिल युद्ध में हिंदुस्तान की जीत का परचम लहराया था। सेना ने अपने शौर्य और वीरता से तिरंगे पर कभी आंच नहीं आने दी। देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले प्रत्येक सेनानी को श्रद्धांजलि। बता दें कि अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी है।

और पढ़ें
Next Story