Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Karauli Violence: करौली हिंसा के खिलाफ बीजेपी की न्याय यात्रा को रोका, कई बड़े नेताओं समेत 200 से ज्यादा हिरासत में

करौली जिले में हुई हिंसा को लेकर बुधवार को भारतीय जनता पार्टी के द्वारा न्याय यात्रा निकाली गई। लेकिन इस यात्रा को करौली पहुंचने से पहले ही पुलिस ने रोक दिया।

Karauli Violence: करौली हिंसा के खिलाफ बीजेपी की न्याय यात्रा को रोका, कई बड़े नेताओं समेत 200 से ज्यादा हिरासत में
X

बीते दिनों राजस्थान (Rajasthan) के करौली जिले में हुई हिंसा (Karauli Violence) को लेकर बुधवार को भारतीय जनता पार्टी के द्वारा न्याय यात्रा (BJP Nyay Yatra) निकाली गई। लेकिन इस यात्रा को करौली पहुंचने से पहले ही पुलिस ने रोक दिया और इतना ही नहीं इस बीच पार्टी कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प भी हुई। पार्टी नेताओं और 200 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, करौली इलाके में कर्फ्यू के दौरान बीजेपी की न्याय यात्रा निकाली जा रही थी। जिसे पुलिस ने दोपहर एक बजे दौसा-करौली सीमा के पास रोक दिया। इस यात्रा का नेतृत्व बीजेपी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या और कार्यकर्ता कर रहे हैं।

हिरासत में लिए जाने के बाद तेजस्वी सूर्या ने कहा कि प्रदेश की गहलोत सरकार पर लगातार हमले कर रही है। युवा मोर्चा के कार्यकर्ता सामूहिक रूप से गिरफ्तारी दे रहे हैं और यह लड़ाई अभी शुरू हुई है। पीएफआई जैसे संगठन मार्च निकाल सकते हैं लेकिन युवा मोर्चा नहीं, हम शांतिपूर्ण तरीके से रैली नहीं निकाल सकते हैं क्या। दंगे सरकार की नाकामी है और राज्य में कानून-व्यवस्था डगमगाई हुई है।

न्याय यात्रा के दौरान प्रदेश के सीएम अशोक गहलोत ने आक्रामक बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार है। क्या वहां रामनवमी पर दंगे हुए। यहां सभी समुदायों के लोगों ने मिलकर रामनवमी मनाई है। यहां अगर कोई कुछ करता है तो हमारी सरकार उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। 2 अप्रैल को करौली में एक शोभा यात्रा निकाली जा रही थी। उसी दौरान वहां पथराव हो गया और हिंसा भड़क गई। हिंसा के बाद जिला प्रशासन के आदेश के बाद अभी भी कर्फ्यू जारी है।

और पढ़ें
Next Story