Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Jnu Violence : टीवी चैनल के स्टिंग में हुआ खुलासा, लेफ्ट विंग ने पहले पेरियार छात्रावास पर किया था हमला

Jnu Violence : जेएनयू हिंसा को लेकर नया खुलासा हुआ है। जेएनयू के पेरियार छात्रावास पर पहले लेफ्ट विंग से जुड़े छात्रों ने हमला किया। इसके बाद कावेरी छात्रावास पर एबीवीपी से जुड़े विद्यार्थियों ने हमला किया है।

Jnu Violence : टीवी चैनल के स्टिंग में हुआ खुलासा, लेफ्ट विंग ने पहले पेरियार छात्रावास पर किया था हमलापेरियार छात्रावास पर हुआ था सबसे पहले हमला

Jnu Violence : जेएनयू में लेफ्ट विंग और एबीवीपी के बीच हुई हिंसा को लेकर खुलासा हुआ है। जेएनयू के पेरियार छात्रावास पर सबसे पहले लेफ्ट विंग के छात्रों की तरफ से हमला किया गया था। जिसके बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्रों ने हमले का जवाब दिया था। एबीवीपी के छात्रों ने पेरियार छात्रावास पर हमला होने के बाद साबरमती छात्रावास के विद्यार्थियों के साथ मारपीट की थी।

जेएनयू हिंसा को लेकर मीडिया चैनल ने स्टिंग किया है। जिसमें एबीवीपी से जुड़े बीए प्रथम वर्ष के छात्र अक्षत अवस्थी हमले की जिम्मेदारी ले रहे हैं। स्टिंग में बीए प्रथम वर्ष के फ्रेंच पाठ्यक्रम के छात्र का दावा है कि एबीवीपी के 20 छात्रों ने साबरमती छात्रावास में मारपीट की। उसने कश्मीरी छात्र के कमरे का दरवाजा तोड़कर उसे पीटा।

लेकिन स्टिंग में ही अक्षत का दावा है कि लेफ्ट विंग के छात्रों ने पेरियार छात्रावास में पहले मारपीट की। मीडिया चैनल की तरफ से जारी 6.45 सेकेंड के वीडियो में 3.19 सेकेंड पर छात्र का कहना है कि पेरियार छात्रवास पर पहले हमला किया गया। जिसके बाद उनके एक्शन का ये रिएक्शन था।

लेफ्ट विंग के छात्र कर रहे थे बैठक

पेरियार हॉस्टल पर हमला करने के बाद लेफ्ट विंग के छात्र साबरमती छात्रावास में बैठक कर रहे थे। उस वक्त एबीवीपी के छात्रों ने उनके ऊपर हमला किया था। अक्षत अवस्थी ने स्टिंग में आगे कहा है कि साबरमती में टीचर और लेफ्ट विंग के छात्रों की मीटिंग चल रही थी। उन्हें अंदाजा नहीं था कि एबीवीपी भी हमले का जवाब देने के लिए हमला कर सकती है। जब हमने हमला किया तो वो छुपने के लिए भागे।

गुस्से को दिखायी सही राह

टीवी चैनल के स्टिंग में रिपोर्टर कहता है कि आपने 20 लोगों को कैसे मॉबलाइज किया साबरमती पर हमला करने के लिए। जिसका जवाब देते हुए अक्षत कहता है कि मैंने मॉबलाइज नहीं किया। मैंने सिर्फ गुस्से को सही राह दिखायी है।

एबीवीपी का गढ़ है पेरियार

पेरियार छात्रावास एबीवीपी के छात्रों का गढ़ है। जेएनयू में पढ़ने वाले सबसे ज्यादा छात्र पेरियार छात्रावास में रहते हैं। ऐसे में एबीवीपी के छात्रों को निशाना बनाने के लिए पेरियार हॉस्टल पर हमला किया गया। जिसका जवाब देने के लिए एबीवीपी ने साबरमती छात्रावास के छात्रों पर हमला किया। उसे लेफ्ट विंग से जुड़े छात्रों का गढ़ माना जाता है।

Next Story
Top