Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जेएनयू हिंसा के विरोध में छात्रों का मार्च, CJI बोले- मुश्किल वक्त से गुजर रहा देश

जेएनयू हिुंसा के विरोध में आज छात्र मंडी हाउस तक मार्च निकाल रहे हैं। देश के मुख्य न्यायाधीश बोबडे ने सीएए समर्थन याचिका पर सुनवाई के दौरान कहा कि आज देश मुश्किल वक्त से गुजर रहा है। शांति के लिए कदम उठाने चाहिए।

जेएनयू हिंसा के विरोध में छात्रों का मार्च, CJI बोले- मुश्किल वक्त से गुजर रहा देशजेएनयू हिंसा

जेएनयू हिंसा के विरोध में आज छात्र जेएनयू से मंडी हाउस तक पैदल मार्च निकाल रहे हैं। छात्रों के विरोध के चलते दिल्ली पुलिस ने भी मुस्तैद दिखाई दे रही है और दिल्ली पुलिस ने जेएनयू कैंपस के बाहर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर दिए हैं। आपको बता हैं कि बीते दिनों जेएनयू कैंपस में कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों पर हमला कर दिया जिसमें करीब 34 छात्रों को चोटें आई थी। पूरे घटनक्रम पर पुलिस का कहना है कि आरोपियों की पहचान कर ली गई है , इसी दौरान हिंदू रक्षा दल के अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने हमले की जिम्मेदारी लेते हुए बयान जारी किया कि देश विरोधी ताकतों को सबक सिखाने के लिए यह हमला किया गया था।

JNU Protests Live update

आज देश विरोध प्रदर्शनों के दौर से गुजर रहा है। जहां एक तरफ देश में सीएए, एनआरसी के विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं वहीं अब इसके समर्थन में भी सरकारी पक्ष के लोग रैलियां निकाल रहे हैं। देश की सर्वोच्च अदालत में

CAA के विरोध में याचिकाएं लंबित हैं इन सभी याचिकाओं पर सुनवाई होना अभी बाकी है , अब CAA के समर्थन में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई जिस पर देश के मुख्य न्यायाधीश बोबडे ने कड़ा रुख अपनाते हुए कहा है कि आज देश मुश्किल वक्त से गुजर रहा है आप याचिका पर नहीं शांति बहाली पर ध्यान दें।

देश में जेएनयू में छात्रों में हिंसक झड़प देखने को मिल रही हैं छात्रों का कहना है कि हम फीस बढ़ोतरी और सरकार की दमनकारी नीतियों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं आज जेएनयू के छात्र मंडी हाउस तक मार्च निकाल रहे हैं

जेएनयू के छात्रों को जामिया के छात्रों का भी समर्थन हासिल है छात्रों की मांग है कि जेएनयू के वीसी को तत्काल प्रभाव से हटाया जाए और छात्रों पर हुए हमले में शामिल लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाए

Next Story
Top