Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीएम मोदी की सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं होंगी महबूबा मुफ्ती... इधर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिले उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, जानिये क्यों ?

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर के राजनेताओं की सर्वदलीय बैठक 24 जून को बुलाई है। इसके लिए पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती को भी अनौपचारिक आमंत्रण दिया गया था।

पीएम मोदी की सर्वदलीय बैठक में शामिल नहीं होंगी महबूबा मुफ्ती... इधर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिले उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, जानिये क्यों ?
X

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती की फाइल फोटो।

केंद्र की ओर से 24 जून को बुलाई गई जम्मू-कश्मीर के नेताओं की सर्वदलीय बैठक में पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती शामिल नहीं होंगी। बताया जा रहा है कि यह बैठक पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में होगी, जिसमें जम्मू-कश्मीर में चुनाव और परिसीमन को लेकर चर्चा हो सकती है। उधर, जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को दिल्ली में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मुलाकात की। इस मुलाकात में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर के राजनेताओं की सर्वदलीय बैठक 24 जून को बुलाई है। इसके लिए पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती को भी अनौपचारिक आमंत्रण दिया गया था। महबूबा मुफ्ती ने सर्वदलीय बैठक में शामिल होने के सवाल पर कहा था कि इस संबंध में पार्टी की बैठक में निर्णय लिया जाएगा।

पीडीपी के प्रवक्ता सैय्यद सुहैल बुखारी ने कहा कि पीडीपी के राजनीतिक मामलों की समिति की आज बैठक हुई है। सभी ने एकमत निर्णय लिया है कि पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती पीएम मोदी के साथ बैठक में शामिल नहीं होंगी। हालांकि सभी ने तय किया है कि इस बारे में अंतिम निर्णय पीडीपी प्रमुख ही लेंगी। उन्होंने कहा कि दो दिन के अंदर गुपकार गठबंधन के नेताओं की मीटिंग भी होगी, जिसमें इस मुद्दे पर भी चर्चा होगी।

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा रक्षा मंत्री से मिले

इस बीच आज दिल्ली में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई।

बता दें कि मनोज सिन्हा ने बीते शुक्रवार को गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की थी। इस उच्च स्तरीय बैठक में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, एनएसए अजीत डोभाल, गृह सचिव अजय भल्ला, इंटेलिजेंस ब्यूरो के निदेशक अरविंद कुमार, रॉ के प्रमुख सामंत कुमार गोयल, सीआरपीएफ के महानिदेशक कुलदीप सिंह और जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह शामिल हुए थे।

Next Story