Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Jammu Kashmir पर बयानबाजी जारी: महबूबा मुफ्ती ने लगाया केंद्र पर आरोप, शाहनवाज हुसैन बोले- पीएम मोदी कश्मीर के लोगों के दिलों में रहते हैं

जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 को लेकर एक बार फिर बयानबाजी चरम पर है। ऐसे में एक तरफ पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती लगातार बयानबाजी कर रही हैं तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने बड़ा बयान दिया है।

Jammu Kashmir पर बयानबाजी जारी: महबूबा मुफ्ती ने लगाया केंद्र पर आरोप, शाहनवाज हुसैन बोले- पीएम मोदी कश्मीर के लोगों के दिलों में रहते हैं
X

शाहनवाज हुसैन और महबूबा मुफ्ती

जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 को लेकर एक बार फिर बयानबाजी चरम पर है। ऐसे में एक तरफ पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती लगातार बयानबाजी कर रही हैं तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने बड़ा बयान दिया है।

शाहनवाज हुसैन बोले- कश्मीरी लोगों के दिलों में पीएम मोदी

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शाहनवाज हुसैन ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि अनुच्छेद 370 जम्मू कश्मीर के विकास में एक बड़ी बाधा थी और अब इसे विकास से कोई नहीं रोक सकता और दुनिया की कोई भी ताकत अनुच्छेद-370 को बहाल नहीं कर सकती। साथ ही उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी कश्मीर के लोगों के दिलों में रहते हैं।

वहीं दूसरी तरफ गुपकार गैंग को लेकर भी केंद्र के निशाने पर जम्मू कश्मीर की कई राजनीतिक पार्टियां हैं। गुपकार गठबंधन में पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस जैसी पार्टियों के अलावा अलगाववादी संगठन के नेता भी शामिल हैं, जो कश्मीर को फिर से विशेष राज्य का दर्जा दिलवाने के लिए एक साथ आए हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हाल ही में गुपकार समझौते में शामिल पार्टियों को 'गुपकार गैंग' कहा था।

महबूबा मुफ्ती का केंद्र पर हमला

इसके अलावा लगातार पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने आरोप लगाया है कि डीडीसी चुनावों में गैर-भाजपा दलों की भागीदारी को कम करने के लिये केंद्र सरकार लगातार साजिश रच रही है। इससे पहले उन्होंने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु के पास कश्मीर को लेकर एक विजन था। महबूबा मुफ्ती ने यह भी कहा कि जवाहरलाल नेहरु के पास विजन था, लेकिन पीएम मोदी के पास कोई विजन नहीं है। दुर्भाग्य से अधिकांश मीडिया बीजेपी के प्रोपेगंडा की बात करती हैं। जम्मू-कश्मीर के संविधान को लूटा गया है।

महबूबा मुफ्ती ने गुपकार समझौते को लेकर कि हम सभी मुख्य धारा के दल हैं। हमने जम्मू-कश्मीर के संविधान की रक्षा करने की शपथ ले रखी है। मेरे पिता ने उस समय तिरंगा फहराया था जब ये एक टैबू हुआ करता था। हम उसका बचाव करेंगे। इसके अलावा महबूबा मुफ्ती ने चुनाव के मुद्दे पर कहा कि हम कोई चुनाव नहीं लड़ेंगे। मैंने कहा था कि मैं तब तक चुनाव नहीं लड़ूंगी जब तक जम्मू-कश्मीर का झंडा बहाल नहीं हो जाता।

Next Story