Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

J&K: सुंजवां में CISF पर हुए आतंकी हमले की जांच करेगी NIA , गृह मंत्रालय ने सौंपी जिम्मेदारी

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के सुंजवां में 22 अप्रैल को सीआईएसएफ (CISF) के वाहन पर हुए आतंकी हमले (Terrorist attacks) मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी ( National Investigation Agency) करेंगी। क्योकि अब केंद्रीय गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) ने आतंकी हमले की जांच एनआईए (NIA) को सौंप दी है।

J&K: सुंजवां में CISF पर हुए आतंकी हमले की जांच करेगी NIA , गृह मंत्रालय ने सौंपी जिम्मेदारी
X

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के सुंजवां में 22 अप्रैल को सीआईएसएफ (CISF) के वाहन पर हुए आतंकी हमले (Terrorist attacks) मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी ( National Investigation Agency) करेंगी। क्योकि अब केंद्रीय गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) ने आतंकी हमले की जांच एनआईए (NIA) को सौंप दी है। जिसके बाद एनआईए ने इस मामले को फिर से दर्ज किया है जिसकी जांच शुरू में जम्मू-कश्मीर पुलिस कर रही थी।

आतंकी हमले की एनआईए (NIA) जांच की अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। पिछले हफ्ते सुंजवां में आर्मी कैंप के पास आतंकी हमला हुआ था। आतंकियों (Terrorists) ने हमले में सीआईएसएफ की बस को भी निशाना बनाया था। इस हमले के बाद सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया था। वहीं, अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

उनमें से एक पहले ही अंतरराष्ट्रीय सीमा से कश्मीर में आतंकवादियों को लाने की बात कबूल कर चुका है। सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो पश्तो-भाषी आतंकवादी मारे गए, जबकि एक सीआईएसएफ (CISF) के अधिकारी शहीद हो गए थे। दोनों आतंकियों ने सीमा पार से घुसपैठ की थी। मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मियों समेत नौ अन्य घायल हो गए। इस घटना के सिलसिले में अब तक एक मिनी ट्रक के चालक और उसके सहायक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

अधिकारियों ने बताया कि अनंतनाग जिले (Anantnag District) के कोकरनाग इलाके के ड्राइवर बिलाल अहमद वागे और उसके सहायक अशफाक चोपन को रविवार को कश्मीर से गिरफ्तार किया गया, जो कथित तौर पर अंतरराष्ट्रीय सीमा से सपवाल में आतंकवादियों को ले जा रहे थे।

और पढ़ें
Next Story