Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

INX मीडिया केस : चिदंबरम के वकील सिब्बल ने कोर्ट में दीं ये दमदार दलीलें, नहीं आईं काम, भेजे गए CBI रिमांड पर

आईएनएक्स मीडिया केस में पूर्व गृहमंत्री और वित्त मंत्री पी चिदंबरम को बुधवार देर रात सीबीआई ने गिरफ्तार किया। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर बीजेपी मुख्यालया ले जाया गया। सीबीआई ने आज उन्हें दिल्ली की एक कोर्ट में पेश किया।

INX मीडिया केस : चिदंबरम के वकील सिब्बल ने कोर्ट में दीं ये दमदार दलीलें, नहीं आईं काम, भेजे गए CBI रिमांड पर

आईएनएक्स मीडिया केस में पूर्व गृहमंत्री और वित्त मंत्री पी चिदंबरम को बुधवार देर रात सीबीआई ने गिरफ्तार किया। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर बीजेपी मुख्यालया ले जाया गया। सीबीआई ने आज उन्हें दिल्ली की एक कोर्ट में पेश किया।

कोर्ट में सुनावई के दौरान पी चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने अदालत में उनके बचाव में कई तर्क और दलीलें दी लेकिन वह नाकाम रहे। कोर्ट ने अपना फैसाल सुनाते हुए पी चिदंबरम को पांच दिन की सीबीआई रिमांड पर भेज दिया।

उनके वकीलों और परिवार के सदस्यों कोर्ट ने हर दिन 30 मिनट मिलने की अनुमति दी है। सीबीआई ने आईएनएक्स मीडिया में पी चिदंबरम से पूछताछ कर 'बड़ी साजिश' का खुलासा के लिए अदालत से पांच दिन की रिमांड मांगी थी, जोकि कोर्ट ने उन्हे दे दी है। पी चिदंबरम अब 26 अगस्त तक सीबीआई की रिमांड पर रहेंगे।


पी चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट में दीं ये दलीलें

* पी चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने सीबीआई कोर्ट में अपनी दलीलें देते हुए कहा इस मामले में पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम के चार्टर्ड अकाउंटेंट भास्कर रमन की हुई थी, जो अभी जमानत पर जेल से बाहर है।

* वकील कपिल सिब्बल ने दलील पेश की कि इस मामले में अन्य आरोपी पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी को भी जमानत मिल चुकी है। लेकन वह अन्य मामले में जेल में हैं।

* वकील कपिल सिब्बल ने दलील पेश की कि जमानत देना एक नियम है, कोर्ट के समक्ष मुद्दा व्यक्तिगत आजादी का है।

* सीबीआई द्वारा पी चिदंबरम से 12 सवाल पूछे गए थे। वह उनमें से 6 सवालों के जवाब पहले ही दे चुके हैं।

* जांचकर्ता के पास उनसे पूछने के लिए सवाल नहीं हैं।

* कपिल सिब्बल ने कोर्ट में दलील देते हुए कहा कि यह ऐसा मामला है, जिसका सबूतों से कोई लेना-देना नहीं है।

पी चिदंबरम के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने दीं ये दलीलें

* अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट में दलील देते हुए कहा कि सरकारी गवाह बनी महिला के बयान की आड़ में चिदंबरम की गिरफ्तारी की गई है। सरकारी गवाह का बयान स्टेटस होता है, सबूत नहीं।

* अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट में दलील दी कि सीबीआई की ओर से पिछले 11 महीने में चिदंबरम को एक फोन तक नहीं किया लेकिन अब अचानक गिरफ्तारी पर अड़ गई है, ऐसा क्यों?

* अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि चिदंबरम वह जवाब तो नहीं देंगे जो सीबीआई सुनना चाहती है। बीती रात उन्हें सोने तक नहीं दिया।

* अभिषेक मनु सिंघवी ने दलील देते हुए कहा कि सीबीआई का पूरा मामला इंद्राणी मुखर्जी के साक्ष्य और केस डायरी पर आधारित है।

* अभिषेक मनु सिंघवी ने दलील देते हुए कहा कि यदि जांच एजेंसी मुझे पांच बार कॉल करती है और मैं नहीं जाता हूं कोई जवाब नहीं देता हूं तो यह असहयोग है। लेकिन पी चिदंबरम को एक बार बुलाया, और वे चले गए। असहयोग कहां है?

Next Story
Share it
Top