Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

International Yoga Day: जानें कैसे हुई थी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत, भारत ने की थी सबसे पहले पहल

International Yoga Day: इस साल कोरोना महामारी के बीच 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा।

International Yoga Day: जानें कैसे हुई थी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत, भारत ने की थी सबसे पहले पहल
X

International Yoga Day: इस साल कोरोना महामारी के बीच 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। यह योग दिवस सिर्फ भारत ही नहीं दुनिया के तमाम देशों में मनाया जाएगा। इस बार संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि इस साल का योग दिवस डिजिटल होगा लोग अपने घरों में बैठकर योग करें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कि देश की जनता से अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 जून को मनाए जाने वाले योग दिवस को लेकर लोगों से अपील की है कि इस बार वह अपने घर में रहकर ही योग दिवस को मनाए।

नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी को देखते हुए छठे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर देश के लोगों से अपील करते हुए कहा कि मुझे पिछले कुछ सालों में योग की बढ़ती लोकप्रियता पर खुशी है। खासकर युवाओं में इसके प्रति जोश और जज्बा दिखता है। आमतौर पर यह सार्वजनिक तौर पर आयोजित होता है। लेकिन इस साल कोरोना संकट के बीच हम सभी को योग अपने घर में बैठकर करना होगा।

कैसे हुई योग दिवस की शुरुआत

जानकारी के लिए बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की पहल सबसे पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी। संयुक्त राष्ट्र में एक संबोधन के दौरान साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया के सभी देशों से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने की प्रस्ताव रखा था।

जिसे संयुक्त राष्ट्र ने स्वीकार करते हुए कहा कि हर साल 21 जून को योग दिवस मनाया जाए करेगा। सबसे पहला योग दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया था। यह अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की पहल के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को श्रेय जाता है।

योग के जनक महर्षि पतंजलि थे

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को मनाने का सबसे प्रमुख उद्देश्य लोगों के शारीरिक और मानसिक सेहतमंद रहने के लिए हर दिन जो किया जाता है। लेकिन अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के दिन इसे पूरी दुनिया के अंदर लोगों में उत्साह बढ़ाने के लिए किया जाता है। योग न केवल शारीरिक विकारों को दूर करता है, बल्कि मानसिक तनाव को भी दूर करता है। भारत में प्राचीन काल से योग किया जाता है। इसके जनक महर्षि पतंजलि थे।

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी और प्रदूषण के वातावरण के बीच इंसान कई बीमारियों का शिकार हो रहा है। ऐसे में लोगों के बीच योग को बढ़ावा देने से उनके शारीरिक और मानसिक सेहत दुरुस्त रहे। इसको लेकर जो किया जाता है। भारतीय शास्त्र में भी योग का बहुत ही बड़ा महत्व बताया गया है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी योग करते हैं। सभी प्रकार के बीमारियों से छुटकारा मिल जाता है। योग तनाव और चिंता को भी दूर करने में सहायक होता है।

Next Story