Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारतीय रेलवे ने कैंसल टिकट के रिफंड करना किया शुरू, ये तय किए हैं नियम

रेलवे ने 22 मार्च से 30 जून के बीच रिजर्वेशन काउंटर से बुक कराए गए टिकटों के रिफंड सोमवार से देना प्रारंभ कर दिया है। इसमें अच्छी बात यह है कि लोग देश के किसी भी आरक्षण केंद्र पर जाकर टिकट दिखाकर अपना रिफंड ले सकते हैं। फार्म भरने के बाद ऑफलाइन टिकट का रिफंड तत्काल कैश में दिया जाएगा।

रेल में बिना टिकट यात्रा करने पर नहीं होगी जेल, छोटे अपराधों पर सिर्फ जुर्माने की योजना
X
भारतीय रेलवे (फाइल फोटो)

रेलवे ने 22 मार्च से 30 जून के बीच रिजर्वेशन काउंटर से बुक कराए गए टिकटों के रिफंड सोमवार से देना प्रारंभ कर दिया है। इसमें अच्छी बात यह है कि लोग देश के किसी भी आरक्षण केंद्र पर जाकर टिकट दिखाकर अपना रिफंड ले सकते हैं। फार्म भरने के बाद ऑफलाइन टिकट का रिफंड तत्काल कैश में दिया जाएगा।

बता दें कि लॉकडाउन में रेल सेवाएं बंद होने के चलते ऐसे लोग ट्रेनों के कैंसल होने के बाद भी रिफंड नहीं ले पाए थे। रेलवे ने रिफंड लेने के लिए यात्रियों को फेस मास्क के साथ सामाजिक दूरी बनाकर रेलवे के आरक्षण केंद्र में काउंटर से रद्द हुए टिकटों को दिखाकर उसका पैसा वापस लेने को कहा गया है।

चरणबद्ध तिथियों में मिलेगा रिफंड

रेलवे द्वारा जारी निर्देशों के तहत सोमवार से 22 से 31 मार्च तक यात्रा करने के लिए बुक कराए गये कैंसिल टिकटों का पैसा वापस देना शुरू कर दिया है, जो 31 मई तक जारी रहेगा। उसके बाद 1 से 14 अप्रैल तक की यात्रा के लिए बुक टिकटों का पैसा 1 जून से वापस मिलना शुरू होगा। इसी प्रकार 15 से 30 अप्रैल की यात्रा के टिकटों का रिफंड 7 जून से।

एक मई से 15 मई तक यात्रा करने के लिए बुक टिकट का पैसा 14 जून से, 16 से 30 मई के लिए बुक कराए गये कैंसिल टिकटों का पैसा 21 जून से तथा एक जून से 30 जून तक की यात्रा के लिए बुक कराए गये यात्री कैंसिल हुए टिकटों का पैसा 28 जून से वापस ले सकेंगे।

लॉकडाउन के कारण ट्रेनें थीं बंद

देश में कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन शुरू होते ही भारतीय रेलवे ने तमाम यात्री ट्रेनों को निरस्त कर दिया था। अब सोमवार से रेलवे ने कांउटरों से बुक कराए गये टिकटों का रिफंड देना शुरू कर दिया है। लॉकडाउन से पहले काउंटर से बुक कराए गये कैंसिल टिकटों के रिफंड के लिए पिछले सप्ताह शनिवार को सम्पर्क करें।

Next Story