Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ट्रेन चलने से पहले टिकट बुकिंग में बड़ी गड़बड़, आईआरसीटीसी के एजेंट गिरफ्तार

भारतीय रेलवे द्वारा एक जून से 100 जोड़ी ट्रेनों को चलाने के ऐलान के बाद गुरुवार को आईआरसीटीसी की वेबसाइट से शुरू हुई बुकिंग में गडबड़झाला सामने आया है, जिसमें आरपीएफ ने राष्ट्रव्यापी अभियान चलाकर आठ आईआरसीटीसी के ऐजेंटों समेत 14 टिकटों को गिरफ्तार कर लिया है, जिनसे करीब 6.37 लाख रुपये कीमत के आरक्षित टिकट बरामद किये हैं।

ट्रेन चलने से पहले टिकट बुकिंग में बड़ी गड़बड़, आईआरसीटीसी के एजेंट गिरफ्तारIndian Railway Did Something Amazing, It Is Being Praised On Twitter

भारतीय रेलवे द्वारा एक जून से 100 जोड़ी ट्रेनों को चलाने के ऐलान के बाद गुरुवार को आईआरसीटीसी की वेबसाइट से शुरू हुई बुकिंग में गडबड़झाला सामने आया है, जिसमें आरपीएफ ने राष्ट्रव्यापी अभियान चलाकर आठ आईआरसीटीसी के ऐजेंटों समेत 14 टिकटों को गिरफ्तार कर लिया है, जिनसे करीब 6.37 लाख रुपये कीमत के आरक्षित टिकट बरामद किये हैं।

रेल मंत्रालय ने गुरुवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि रेलवे द्वारा एक जून से 100 जोड़ी ट्रेने चलाने का ऐलान किया गया था, जिसके लिए बुधवार को 21 मई से ऑनलाइन टिकट बुक कराने के निर्देश जारी किये गये थे। आरक्षित टिकटों के गोरखधंडे की आंशका को देखते हुए रेलवे ने एक दिन पहले ही आरपीएफ को राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू कर दिया।

इस अभियान में आरक्षित टिकटों की कालाबाजारी करने वाले गिरोह की पहचान करके उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने का फैसला किया गया। रेल मंत्रालय के अनुसार इस अभियान के दौरान ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग में धांधलेबाजी सामने आई जिसमें आठ आईआरसीटीसी के एजेंट और छह अन्य दलालों की पहचान हुई। इन चौदह लोगों को गिरफ्तार करके रेलवे सुरक्षा बलों के दलों ने उनके कब्जे से 6.36 लाख 727 रुपये कीमत के हजारों टिकट बरामद किये हैं।

शिकायतों के बाद चला खुफिया अभियान

रेल मंत्रालय ने जानकारी दी है कि भारतीय रेलवे ने गत 12 मई से 15 जोड़ी विशेष ट्रेनों का संचालन शुरू किया गया था, तो उस दौरान रेलवे को कई व्यक्तिगत आईडीएस का इस्तेमाल करके ई-टिकटों के संबन्ध में मिली शिकायतों के मद्देनजर एक जून से आरंभ होने जा रही 100 जोड़ी ट्रेनों के लिए टिकट बुकिंग में ग्राहकों को आरक्षित बर्थ दिलाने के नाम पर ग्राहकों के लिए टिकट तैयार किये जाने की आशंका जाहिर की गई। इसके लिए रेलवे ने पीआरएबीएएल मॉडल के आधार पर जमीन खुफिया तरीके को अपनाते हुए इस अभियान को शुरू करने के निर्देश दिये, जिसमें आरपीएफ के महानिदेशक अरुण कुमार के नेतृत्व में आरपीएफ और रेलवे के अधिकारियों की टीमों के साथ इस अभियान को शुरू किया।

निरस्त टिकटों का पूरा पैसा मिलेगा वापस

रेल मंत्रालय के प्रवक्ता ने गुरुवार को जानकारी दी कि एक जून से चलने वाली विशेष ट्रेनों के रद्द किये गए टिकटों का यात्री को पूरा पैसा वापस दिया जाएगा। अभी तक जब भी कभी टिकट कैंसिल होता था तो रेलवे चार्ज के रूप में कुछ पैसा काट लेता था, लेकिन एक जून से चलने वाली स्पेशल ट्रेनों के लिए बुक किए गए टिकटों का पूरा पैसा देने का फैसला किया गया है।

रेलवे ने कहा कि यह विशेष ट्रेनें नियमित रेल गाड़ियों की तर्ज पर चलाई जाएंगी और स्तर दो के शहर तथा मुंबई और कोलकाता जैसी प्रमुख राजधानियों को कवर करेंगी। अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल ऐसी सभी विशेष ट्रेनों में यात्रियों के सभी वर्गों को समायोजित करने के लिए ये दोनों श्रेणियां होंगी। यह ट्रेनें एक जून से चलेंगी जिनमें 17 जन शताब्दी और पांच दुरंतो एक्सप्रेस ट्रेनें शामिल होंगी।

Next Story
Top