Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Indian Navy Day 2019: आजादी के बाद कितनी बदली भारतीय नौसेना, ये हैं 7 खास बातें

Indian Navy Day 2019: हर साल 4 दिसंबर को भारतीय नौसेना दिवस मनाया जाता है। साल 1971 में इसे सरकार द्वारा घोषित किया गया था। सेना के करांची बंदरगाह पहुंचने पर जवानों के साहस की याद में भारतीय नौसेना दिवस मनाया जाता है।

Indian Navy Day: जानें आजादी के बाद कितनी बदल गई भारतीय नौसेना, ये हैं 7 खास बातेंभारतीय नौसेना

Indian Navy Day 2019: हर साल 4 दिसंबर को भारतीय नौसेना दिवस मनाया जाता है। साल 1971 में इसे सरकार ने घोषित किया था। सेना के करांची बंदरगाह पहुंचने पर जवानों के इस साहस की याद में भारतीय नौसेना दिवस मनाया जाता है।

4 दिसंबर 1971 को भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान भारतीय सेना करांची पहुंच गई थी। उस युद्ध के सभी शहीदों की श्रद्धा के लिए करांची बंदरगाह पर साहसी हमले की याद में मनाया जाता है। उस समय से लेकर आज तक नौसेना के बेड़े में शामिल सबमरीन और हेलिकॉप्टर इसकी ताकत बढ़ाते रहे हैं। आईएनएस अरिहंत और सबमरीन आईएनएस कालवरी ने सेना की ताकत को सबसे ज्यादा बढ़ाया है। भारतीय नौसेना को अंग्रेजों द्वारा अपने जहाजों की रक्षा करने के लिए स्थापित किया गया। जो समुद्र की रक्षा करती है।

ये हैं भारतीय नौसेना से जुड़ी 7 खास बातें

1. इस दिन हर साल भारतीय नौसेना एक कार्यक्रम के दौरान अपनी ताकत का प्रदर्शन दुनिया को दिखाती है। मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया स्मारक के पास नौसेना का कार्यक्रम होता है, जिसमें सभी चीफ से लेकर अधिकारी शामिल होते हैं।

2. साल 1971 में भारतीय नौसेना की ओर से पाकिस्तान युद्ध में जवानों ने काफी अहम भूमिका निभाई थी। इस दौरान जवानों ने पाकिस्तान के ऑपरेशन ट्राइडेंट और पायथन के साथ गाजी सबमरीन को भी हरा दिया था।

3. भारतीय नौसेना एशिया की सबसे बड़ी फोर्स है। जो सिर्फ 7 किलोमीटर के दायरे में जवानों को ट्रेनिंग देती है। जो 12वीं पास छात्रों को एनडीएक एग्जाम के बाद एडमीशन देकर सेना की तैयारी करवाती है।

4. भारतीय नौसेना ने आजादी के बाद ही नहीं अग्रेजों के वक्त और दूसरे विश्व युद्ध के समय भी भारत और ब्रिटेन के बीच लिंक बनाए रखने के लिए काफी मेहनत की थी। जवानों ने दिन और रात काम किया और युद्ध की स्थिति को सामान्य बनाए रखा।

5. भारतीय नौसेना का अपना एक स्वतंत्र झंडा है। जो वक्त के साथ लगातार बदला है। इस वक्त सफेद ध्वजा पर एक लाल रंग का क्रॉस का निशाना है। साथ ही अशोक स्तंभ का चिन्ह्र है। ऊपर की तरफ देश का तिरंगा भी है।

6. भारतीय नौसेना की गिनती दुनिया की 5 बेस्ट और टॉप 10 में गिनती होती है। साल 2017 में के आंकड़ों के मुताबिक, उस वक्त तक 67 हजार से ज्यादा जवान थे। इसके बेड़े में सबमरीन, एयरक्राफ्ट कई जहाज शामिल हैं।

7. भारतीय नौसेना की तकत को बढ़ाने में सुपरसॉनिक मिसाइल का अहम योगदान है। ये समुद्र में चलने वाली सबसे तेज मिसाइल में गिनी जाती है। वहीं आईएनएस विराट दुनिया का सबसे पहला एयरक्राफ्ट कैरियर था जो गुलाम भारत में इस्तेमाल किया गया और उसके बाद भारत ने उसे खरीदा और उसने 30 साल तक अपनी सेवाएं दीं।

Next Story
Share it
Top