Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मलेशिया के खिलाफ व्यापारिक प्रतिबंध लगा सकता है भारत, UN में कश्मीर पर किया था विरोध

पिछले महीने यूएन महासभा (UNGA) में महातिर (Mahathir Mohammad) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के हालात पर टिप्पणी करते हुए इसे भारत का 'आक्रमण' करार दिया था। मोहम्मद ने भारत को पाकिस्तान से बातचीत करने की सलाह भी दी थी।

मलेशिया के खिलाफ व्यापारिक प्रतिबंध लगा सकता है भारत, UN में कश्मीर पर किया था विरोधIndia May Impose Trade Ban Against Malaysia For Protest On Kashmir In UN

संयुक्त राष्ट्र संघ (UNO) में कश्मीर (Kashmir) का मसला उठाने को लेकर भारत अब मलेशिया (Malaysia) के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रहा है। समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने सरकारी सूत्रों का हवाला देते हुए लिखा मलेशिया से आयात होने वाले पाम ऑयल (Palm Oil) समेत अन्य उत्पादों पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है। बता दें कि हाल ही में संयुक्त राष्ट्र महासभा में मलेशिया ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान (Pakistan) का साथ दिया और कश्मीर में भारत की कार्रवाई को गलत ठहराया। इसको लेकर भारत अब कार्रवाई पर विचार कर रहा है।

बता दें कि भारत में कुल खाद्य तेल की कपत में पाम ऑय का हिस्सा करीब दो तिहाई है। भारत हर साल नब्बे लाख टन पाम ऑयल का आयात करता है। इनमें इंडोनेशिया और मलेशिया का बड़ा हिस्सा है. भारत ने 2019 के नौ महीनों में मलेशिया से सबसे अधिक 39 लाख टन ऑयल आयात किया है। भारत में पाम ऑयल अर्जेंटीना और यूक्रेन से भी आयात होता है।

सूत्रों के मुताबिक मलेशिया से आयात होने वाले पाम ऑयल पर भारत आंशिक या पूरी तरह प्रतिबंध लगा सकता है, जिसका सबसे ज्यादा फायदा इंडोनेशिया को होगा।

खाद्य तेल के लिए नहीं होगी कमी

मुंबई के एक तेल व्यापारी ने कहा कि यदि मलेशिया से पाम ऑयल आयात पर प्रतिबंध लग जाए, तब भी भारत में खाद्य तेल में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं होगी। वहीं इंडोनेशिया भी चाहता है कि भारत सरकार उनसे पाम ऑयल के आयत में बढ़ोत्तरी करे और इसके बदले में शकर का निर्यात करे।

कश्मीर पर दिया था ये बयान

पिछले महीने यूएन महासभा में महातिर ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर टिप्पणी करते हुए इसे भारत का 'आक्रमण' करार दिया था। मोहम्मद ने भारत को पाकिस्तान से बातचीत करने की सलाह भी दी थी। वहीं तुर्की के राष्ट्रपति रीसेप तायिब अर्दोआन ने कहा था कि भारत-पाकिस्तान के बीच इस मुद्दे पर समझौते की जरूरत है। यह मुद्दा टकराव की बजाय बातचीत से हल किया जाना चाहिए।

Next Story
Share it
Top