Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत और म्यांमार के रक्षा संबंधों को मिलेगी मजबूती, ये है मुद्दे

भारत के दौरे पर आए म्यांमार के सशस्त्र सेनाओं के प्रमुख (सीडीएस) सीनियर जनरल मिन आंग ह्लेंग ने सोमवार को रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद येशो नाइक से मुलाकात की।

भारत और म्यांमार के रक्षा संबंधों को मिलेगी मजबूती, ये है मुद्दे

भारत के दौरे पर आए म्यांमार के सशस्त्र सेनाओं के प्रमुख (सीडीएस) सीनियर जनरल मिन आंग ह्लेंग ने सोमवार को रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद येशो नाइक से मुलाकात की।

इस दौरान हुई द्विपक्षीय वार्ता में रक्षा संबंधों के विस्तार, संयुक्त अभ्यासों और म्यांमार की सेनाओं को दिए जाने वाले प्रशिक्षण की समीक्षा, साझा प्रयासों से समुद्री सुरक्षा को बढ़ावा देना, मेडिकल सहयोग और प्रदूषण से निपटने के लिए नए इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास मुख्य है।

यहां बता दें कि म्यांमार के सीडीएस का भारत का दौरा बीते 25 जुलाई से शुरु होकर 2 अगस्त को समाप्त होगा। इसमें उनके साथ म्यांमार का एक वृहद प्रतिनिधिमंडल भी आया हुआ है।

रक्षा सहयोग को लेकर चली द्विपक्षीय वार्ता के निष्कर्ष के रुप में दोनों देशों में एक एमओयू पर भी हस्ताक्षर किए हैं। इसके पूर्व में उन्होंने चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी के अध्यक्ष, वायुसेनाप्रमुख बी़ एस़ धनोआ, सेनाप्रमुख जनरल बिपिन रावत और नौसेनाध्यक्ष एडमिरल करमबीर सिंह से भी मुलाकात की है।

म्यांमार के सीडीएस के भारत आगमन पर उन्हें तीनों सेनाओं की तरफ से गार्ड ऑफ ऑनर का सम्मान दिया गया और उन्होंने राष्ट्रीय समर स्मारक पर जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि भी दी। म्यांमार भारत की पूर्व की ओर देखो नीति का एक अहम सहयोगी है। भारत ने बीते कुछ वर्षों के दौरान उसके साथ द्विपक्षीय रक्षा संबंधों को मजबूत बनाने की दिशा में ध्यान केंद्रित किया है।

Next Story
Share it
Top