Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अजीत डोभाल के बाद चीनी विदेश मंत्री ने जयशंकर से की मुलाकात, कई अहम मुद्दों पर की बातचीत

चीनी विदेश मंत्री वांग यी (Chinese Foreign Minister Wang Yi) ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ( Ajit Doval) से शुक्रवार को दिल्ली में मुलाकात की। चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कई मुद्दों पर अजीत डोभाल के साथ बातचीत की।

अजीत डोभाल के बाद चीनी विदेश मंत्री ने जयशंकर से की मुलाकात, कई अहम मुद्दों पर की बातचीत
X

चीनी विदेश मंत्री वांग यी (Chinese Foreign Minister Wang Yi) ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ( Ajit Doval) से शुक्रवार को दिल्ली में मुलाकात की। वांग यी ने कई मुद्दों पर अजीत डोभाल के साथ बातचीत की। इसके बाद वांग यी ने विदेश मंत्री एस. जयशंकर (s. Jaishankar) से भी मुलाकात की। इस बैठक में कई अहम मुद्दों पर बातचीत हुई। मिली जानकारी के अनुसार विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर आज 2:30 बजे विशेष प्रेस वार्ता करेंगे।

आपको बता दें कि वांग यी की यह भारत यात्रा ऐसे समय में हो रही है जब भारतीय विदेश मंत्रालय (Indian Ministry of Foreign Affairs) ने जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर उनके एक बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी।

विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) के प्रवक्ता अरिंदम बागची (Arindam Bagchi) ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) से जुड़ा मामला पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला है और चीन समेत अन्य देशों को इस पर बयान देकर दखल देने का कोई अधिकार नहीं है। वही वांग यी की भारत यात्रा के दौरान चीनी पक्ष ने भी प्रधानमंत्री मोदी से मिलने का समय मांगा है।

हालांकि पीएम मोदी से मुलाकात की संभावना कम है। सीमा गतिरोध के दो साल बाद से किसी वरिष्ठ चीनी नेता की यह पहली भारत यात्रा है। पिछले महीने, EAM जयशंकर ने कहा था कि बीजिंग द्वारा सीमा समझौतों का उल्लंघन करने के बाद चीन के साथ भारत के संबंध "बहुत कठिन दौर" से गुजर रहे हैं और कहा कि "सीमा की स्थिति रिश्ते की स्थिति का निर्धारण करेगी"।

गलवान घाटी संघर्ष के बाद, दोनों देशों ने गतिरोध को हल करने के लिए कई दौर की सीमा वार्ता की है। भारत ने सभी घर्षण बिंदुओं पर पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) में पूर्ण विघटन का आह्वान किया है।

और पढ़ें
Next Story