Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

4th Sero Survey: ICMR ने चौथे सीरो सर्वे के जारी किए आंकड़े, दो तिहाई आबादी में कोरोना के खिलाफ एंटी बॉडी बनीं, किया अलर्ट

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने मंगलवार को चौथे सीरो सर्वे (Sero Survey) के आंकड़े जारी किए।

4th Sero Survey: ICMR ने चौथे सीरो सर्वे के जारी किए आंकड़े, दो तिहाई आबादी में कोरोना के खिलाफ एंटी बॉडी बनीं, किया अलर्ट
X

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने मंगलवार को चौथे सीरो सर्वे (Sero Survey) के आंकड़े जारी किए। इसमें बताया गया है कि राष्ट्रीय सीरो सर्वे का चौथा चरण21 राज्यों के 70 जिलों में जून और जूलाई महीने में किया गया। जिसमें 6-17 वर्ष की आयु के बच्चे शामिल थे। आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने इसकी जानकारी दी है।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने जानकारी देते हुए कहा कि ये सर्वे जून-जुलाई के बीच किया गया था। जिसमें 28 हजार 975 लोगों पर किए गए इस सर्वे में 6 से 17 साल की उम्र के बच्चों को भी शामिल किया गया था। सर्वे में शामिल 67 फीसदी लोगों में कोविड एंटीबॉडीज पाई गई हैं। यानी वे कोरोना से संक्रमित थे।

आगे कहा कि सर्वे से पता चला है कि देश की दो-तिहाई आबादी में कोविड एंटीबॉडी है और अभी भी 40 करोड़ आबादी पर कोरोना का खतरा बना हुआ है। सर्वे में 6 से 9 साल के 2,892 बच्चे, 10 से 17 साल के 5,799 बच्चे और 18 साल से ऊपर के 20,284 लोग शामिल किए गए थे। सर्वे में शामिल 6 से 17 साल के आधे से ज्यादा बच्चों में भी एंटीबॉडीज मिली हैं।

चौथे सीरो सर्वे को लेकर दी गई जानकारी के मुताबिक, उन इलाकों में कोरोना वेव आने का खतरा है, जहां पर ज्यादा लोगों में एंटीबॉडीज नहीं हैं। 6 से 17 साल की उम्र के बच्चों का सर्वेक्षण किया गया। उनमें से आधे से अधिक पॉजिटिव पाए गए। ऐसे में लोगों को अभी भी संभल कर रहना होगा। सर्वेक्षण भी आशा की किरण है और यह भी दर्शाता है कि लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं है।

Next Story