Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

AN-32 हादसे में कोई नहीं बचा जिंदा, वायुसेना ने सभी को दी श्रद्धांजलि

भारतीय वायु सेना (आईएएफ) की सर्च टीमें आज सुबह AN-32 दुर्घटनास्थल पर पहुंचीं हैं। लेकिन उन्हें विमान में सवार किसी भी सदस्या का सुराग नहीं मिली है।

AN-32 हादसे में कोई नहीं बचा जिंदा, वायुसेना ने सभी को दी श्रद्धांजलि

भारतीय वायु सेना (आईएएफ) की सर्च टीमें आज सुबह AN-32 दुर्घटनास्थल पर पहुंचीं हैं। लेकिन उन्हें विमान में सवार कोई भी सदस्य जीवित नहीं मिला है। वायु सेना की ओर से 13 कर्मियों के परिवारों को पहले ही सूचित कर दिया गया है कि कोई जीवित नहीं है।

दुर्घटनास्थाल पर पहुंच वायुसेना की सर्च टीम ने इसी पुष्टी की है। वायुसेना ने दुख व्यक्त किया करते हुए कहा कि एएन 32 विमान दुर्घटना में जीएम चार्ल्स, एच विनोद, आर थापा, ए तंवर, एस मोहंती, एमके गर्ग, केके मिश्रा, अनूप कुमार, शेरिन, एस के सिंह, पंकज, पुतली और राजेश कुमार ने अपना जीनव खो दिया है। वायु सेना पीड़ित परिवारों के साथ खड़ी है। भगवान वायु-योद्धाओं की आत्मा को शांति प्रदान करे।


आपको बता दें कि तीन जून को भारतीय वायु सेना का विमान AN-32 लापता हो गया था। वायुसेना के लापता ए एन-32 विमान का मलबा 11 जून को मिला। एएन- 32 विमान का मलबा अरुणाचल की सियांग घाटी में मिला है।

जैसा की आप जानते हैं आईएएफ के विमान में AN-32 में 13 वायुसेना के सदस्य मौजूद थे, लेकिन विमान को मलबा तो मिल गया है पर 13 वायुसेना के सवारों का अभी तक पता नहीं चला है।

इसके लिए वायुसेना, इंडियन आर्मी और आम लोगों की मदद भी ली गई। बुधवार को जिस जगह विमान का मलबा मिला है वहां पर जवानों को एयरड्रॉप भी किया गया।

Loading...
Share it
Top