Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सॉफ्टवेयर इंजीनियर माशूका के लिए भटकते भटकते पाकिस्तान की जेल में पहुंचा, चार साल बाद हुई वतन वापसी

प्रशांत वेंडम की सोशल मीडिया के माध्यम से स्विजरलैंड की रहने वाली स्वप्रिता से पहले बातचीत शुरू हुई और फिर धीरे-धीरे दोनों में प्यार हो गया। यहां तक कि कपल ने शादी तक का फैसला कर लिया।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर माशूका के लिए भटकते भटकते पाकिस्तान की जेल में पहुंचा, चार साल बाद हुई वतन वापसी
X

प्यार अंधा होता है, किसी ने सच ही कहा है। इसी प्यार के चक्कर में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को पाकिस्तान की जेल में चार साल की सजा काटनी पड़ी। 4 साल जेल की सजा काटने के बाद अब सॉफ्टवेयर इंजीनियर पाकिस्तान से अपने वतन भारत आया है। दरअसल, प्यार के चक्कर में प्रशांत वेंडम नाम का व्यक्ति पाकिस्तानी सेना के हत्थे चढ़ गया और फिर उसे जेल की हवा खानी पड़ी।

खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक, प्रशांत वेंडम की सोशल मीडिया के माध्यम से स्विजरलैंड की रहने वाली स्वप्रिता से पहले बातचीत शुरू हुई और फिर धीरे-धीरे दोनों में प्यार हो गया। यहां तक कि कपल ने शादी तक का फैसला कर लिया। जिसके बाद 11 अप्रैल 2017 को प्रशांत वेंडम अपनी प्रेमिका स्वप्रिता से मिलने के लिए स्विजरलैंड निकल गया। प्राशांत ने स्विजरलैंड पहुँचने के लिए पाकिस्तान से अफगानिस्तान फिर तजाकिस्तान और वहां से स्विजरलैंड जाने की योजना बनाई थी।

लेकिन पहले ही पड़ाव में प्रशांत को पाकिस्तानी सेना के जवानों ने पकड़ लिया। जिसके बाद उसे जेल में डाल दिया गया। वहीं इस बीच 19 अप्रैल 2017 को प्रशांत के परिवार की ओर से पुलिस को उसके लापता होने की जानकारी दी गयी। परिवार ने पुलिस को बताया कि प्रशांत 11 अप्रैल से लापता है।

पुलिस मामले की छानबीन शुरू करती, लेकिन इससे पहले ही प्रशांत का एक वीडियो सामने आया। वीडियो में प्रशांत ने बताया कि वो अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने स्विजरलैंड के लिए जा रहा था, लेकिन पाकिस्तानी सेना ने उसे पकड़ लिया। अब वह लाहौर जेल में है। जिसके बाद प्रशांत के परिजनों ने इस मामले में केंद्र सरकार से मदद मांगी। अब चार साल बाद लाहौर की जेल से तेलंगाना सरकार और विदेश मंत्रायल की मदद से प्रशांत को पाकिस्तान ने रिहा कर दिया है। अब वह भारत लौट आया है।

Next Story