Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पत्नी की हत्या कर पति ने सूटकेस में भरा शव, रिश्तेदारों को कोरोना से मौत की दे दी खबर

खुद को बचाने और सबूतों को मिटाने के लिए आरोपी पति ने पत्नी के शव को सूटकेस में भर दिया। जिसके बाद आरोपी ने सूटकेस को एक सुनसान इलाके में डाल दिया। शव की पहचान नहीं हो पाये। इसके लिए आरोपी ने सूटकेस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

पत्नी की हत्या कर पति ने सूटकेस में भरा शव, रिश्तेदारों को कोरोना से मौत की दे दी खबर
X

अक्सर आप ने सुना होगा कि हमारी बुरी लत हमारी बर्बादी की वजह बन जाती है। ऐसा ही एक मामला तिरुपति से सामने आया। जहां एक पति ने पत्नी द्वारा बार बार सही रास्ते पर चलने की नसीहत देने और गलत काम का विरोध करने पर उसकी हत्या कर दी। आरोपी ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर पत्नी की हत्या कर उसके शव को सूटकेस में डालकर जला दिया। इतना ही नहीं उसने परिवार से लेकर रिश्तेदारों को पत्नी की कोरोना से मौत हो जाने की बात बताई, लेकिन पांच दिन बाद जैसे ही पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा किया। सभी लोग हैरान रह गये। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

दरअसल, आरोपी पति की पहचान श्रीकांत रेड्डी के रूप में हुई है। श्रीकांत रेड्डी पीपल अगेंस्ट करप्शन नाम से एक संगठन चलाता था। पिछले कुछ समय से उसका यह संगठन घाटे में चल रहा था। ऐसे में उसने पैसे ठगने का काम शुरू कर दिया। उसे पैसे ठगने की आदत हो गई। उसकी इसी आदत का पत्नी विरोध करती थी। श्रीकांत की ठगी की हरकतों से सॉफ्टवेयर इंजीनियर पत्नी नाराज हो गई। इस पर गुस्साएं आरोपी पति ने अपनी बेटी के सामने ही पत्नी को मौत के घाट उतार दिया।

सूटकेस में शव डालकर लगा दी आग

खुद को बचाने और सबूतों को मिटाने के लिए आरोपी पति ने पत्नी के शव को सूटकेस में भर दिया। जिसके बाद आरोपी ने सूटकेस को एक सुनसान इलाके में डाल दिया। शव की पहचान नहीं हो पाये। इसके लिए आरोपी ने सूटकेस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। साथ ही आरोपी ने अपने रिश्तेदार और पड़ोसियों को बताया कि उसकी पत्नी की कोरोना से मौत हो गई है। उसका अंतिम संस्कार भी अस्पताल के अधिकारियों ने कर दिया है।

5 दिन बाद पुलिस ने ऐसे खोला राज

पत्नी की हत्या कर कोरोना से मौत बताने वाली पति के इस गुनाह का राज पुलिस ने पांच दिन बाद खोल दिया। जानकारी के अनुसार, पुलिस एक मिसिंग रिपोर्ट पर काम कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को एक सूटकेस में 90 प्रतिशत जला हुआ शव मिला। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर फॉरेंसिक एक्सपर्ट से इसकी जांच कराई। जिसमें पता चला कि महिला की उम्र 25 से 30 साल की है। पुलिस ने मामले में जांच शुरू की तो श्रीकांत रेड्डी को हिरासत में लिया। जहां उसने सारा गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

और पढ़ें
Next Story