Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद से कश्मीर के लोगों को जनकल्याणकारी योजनाओं का मिल रहा है लाभ: अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि कश्मीर में 370 ( Article 370) हटने के बाद से शांति, निवेश और पर्यटकों में इजाफा हुआ है।

अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद से कश्मीर के लोगों को जनकल्याणकारी योजनाओं का मिल रहा है लाभ: अमित शाह
X

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि कश्मीर में 370 ( Article 370) हटने के बाद से शांति, निवेश और पर्यटकों में इजाफा हुआ है। उन्होंने कहा, "इस समय जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में जिस तरह का विकास हो रहा है, जिस तरह की कानून व्यवस्था अब वहां बनी है, इस वजह से वहां पर्यटन भी बढ़ा है।

जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ वहां की जनता तक पहुंचाने में जम्मू-कश्मीर का प्रशासन आज अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। इतना ही नहीं गृह मंत्री ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भाजपा की सरकार बनाने का दावा करने के अलावा तीनों कृषि कानूनों पर एक कार्यक्रम के दौरान बयान भी दिया।

विधानसभा चुनाव (Assembly election) होने के संबंध में अमित शाह ने कहा, 'मैं पूरे विश्वास के साथ कहना चाहता हूं कि हम (भाजपा) प्रचंड बहुमत से उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने जा रहे हैं। अमित शाह ने दावा किया है कि भाजपा एक बार फिर सरकार बनाएगी।' अमित शाह ने स्पष्ट रूप से कहा कि उत्तर प्रदेश चुनाव में किसान आंदोलन का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह मैं हूं सौभाग्य की बात है कि देश में कोरोना महामारी के आने से करीब 7 साल पहले एक बदलाव आया। 2014 के बाद देश को राजनीतिक स्थिरता मिली है। शाह ने कहा, "लंबे समय तक देश में गठबंधन सरकारों का युग था। इसके परिणाम देश के प्रशासन, अर्थव्यवस्था और भविष्य पर थे। 2014 से 10 साल पहले तक, वहां देश में कई घोटाले हुए। इसने दुनिया में देश की प्रतिष्ठा को कम किया है।

उन्होंने कहा, "श्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद, उन्होंने बहुत धैर्य और दूरदर्शिता के साथ कई मामलों को अपने हाथों में लिया। उनके आने के बाद देश के विकास में गरीबों को भी भागीदार बनाने का काम किया गया है। साथ ही अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए बड़ा दिल दिखाते हुए तीनों कृषि कानूनों को वापस ले लिया है।

पंजाब में चुनाव विकास के आधार पर होंगे। जो अच्छा प्रदर्शन करेगा उसकी सरकार बनेगी। साथ ही कहा कि देश के जानकारों से मेरा अनुरोध है कि आंकड़ों का तुलनात्मक अध्ययन कर सामने रखें। इतना ही नहीं अमित शाह ने पूर्वोत्तर के लिए बयान भी दिया। उन्होंने कहा कि पिछले 2.5 वर्षों में लगभग 4,000 आतंकवादियों ने उत्तर पूर्व में आत्मसमर्पण किया है। देश का एक बड़ा इलाका आतंकवाद (terrorism) की चपेट से बाहर आ गया है। देश ने पिछले 7 वर्षों में सबसे कम नस्लवादी हिंसा देखी है और इसमें कमी जारी है।

और पढ़ें
Next Story