Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किए आंकड़े, वैक्सीन से नपुंसकता और बांझपन पर दिया जवाब, पढ़ें पूरी खबर

कोरोना महामारी के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को ताजा आंकड़े जारी किए।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किए आंकड़े, वैक्सीन से नपुंसकता और बांझपन पर दिया जवाब, पढ़ें पूरी खबर
X

कोरोना महामारी के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को ताजा आंकड़े जारी किए। वैक्सीनेशन पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 36 फीसदी शहरी इलाकों में वैक्सीन दी गई है, देश में 29 करोड़ से ज्यादा डोज दिया गया। पीक से 90 फीसदी मामलों में गिरावट दर्ज की गई।

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने बताया कि बीती 21 जून को पूरे देशभर में 88 लाख लोगों को डोज दी गई। जिसमें से 40,43,000 वैक्सीन की डोज महिलाओं और 47,24,283 वैक्सीन की डोज पुरुषों को लगाई गई। स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कोरोना को लेकर भारत में कल एक दिन में 86.16 लाख (86,16,373) लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई। ये अब तक दुनिया में एक दिन में सबसे ज़्यादा वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को वैक्सीन की 29.35 करोड़ से ज़्यादा डोज उपलब्ध कराई गई हैं। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास अभी वैक्सीन की 2.14 करोड़ से ज़्यादा डोज उपलब्ध है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बार फिर कहा कि वैक्सीन लगने से नपुंसकता या बांझपन होता हो। अभी तक इसका कोई वैज्ञानिक सबूत नहीं मिला है। कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीन प्रभावी और सुरक्षित है।

जानकारी के लिए बता दें कि मध्य प्रदेश ने सोमवार को सबसे अधिक टीकाकरण किया। उसके बाद कर्नाटक और उत्तर प्रदेश दूसरे स्थान पर रहे। इससे पहले 21 जून को प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि केंद्र सरकार आज से प्रत्येक भारतीय के लिए 'सभी के लिए मुफ्त टीकाकरण अभियान' शुरू कर रही है।

उन्होंने कहा कि भारत के टीकाकरण अभियान के इस चरण का सबसे बड़ा लाभ देश के गरीब, मध्यम वर्ग और युवाओं को होगा। हम सभी को खुद को टीका लगवाने का संकल्प लेना चाहिए। हम सब मिलकर कोविड-19 को हराएंगे।

Next Story