Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना पर स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस, छत्तीसगढ़ दिल्ली और मध्य प्रदेश में कम हुए कोरोना के आंकड़े

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि बीते 15 दिनों में कोरोना के आंकड़ों में कमी आई है। तो वहीं मृत्यु दर में भी कमी आई है।

कोरोना पर स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस, छत्तीसगढ़ दिल्ली और मध्य प्रदेश में कम हुए कोरोना के आंकड़े
X

भारत में कोरोना की दूसरी लहर के बीच सोमवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई। प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि बीते 15 दिनों में कोरोना के आंकड़ों में कमी आई है। तो वहीं मृत्यु दर में भी कमी आई है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि नीट पीजी की परीक्षाओं को टाल दिया गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि देश में अब तक 81.77 फीसदी मामले ठीक हुए हैं। देश में करीब 34 लाख सक्रिय मामलों की संख्या बनी हुई है। अब तक संक्रमण से 2 लाख के करीब मृत्यु दर्ज़ की गई है। पिछले 24 घंटे में देश में 3,417 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई है।

लव अग्रवाल ने आगे बताया कि देश में कोरोना से मृत्युदर 1 फीसदी से कम हुई है। 12 राज्यों में एक लाख से ज्यादा एक्टिव केस है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में आगे कहा कि छत्तीसगढ़, दिल्ली और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में कोरोना के मामलों में कमी आई है वहीं दूसरी तरफ मुंबई और औरंगाबाद में भी कमी देखी गई है। बीते 15 दिनों में संक्रमण के आंकड़ों में लगातार कमी देखी गई है।

आगे कहा कि राज्यों के पास 78 लाख से अधिक डोज, तीन महीने के लिए एडवांस में ऑर्डर दिया। स्वास्थ्य मंत्रालय ने उन मीडिया रिपोर्ट्स को गलत करार दिया है, जिसमें यह कहा गया कि सरकार ने कोरोना टीके के नए ऑर्डर नहीं दिए हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम हेतु कंटेनमेंट प्लान जारी किया गया है। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी संजीव श्रीवास्तव ने जिले मे वर्तमान स्थिति को देखते हुए 33 कलस्टर कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।

कोरोना पर स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस से जुड़ी अहम बातें.....

1. 15 दिनों में कम हुआ कोरोना संक्रमण।

2. देश में कोरोना से मृत्यु दर 1 प्रतिशत से भी कम।

3. नीट पीजी परिक्षा 4 महीने के लिए टाली जाएगी।

4. मेडिकल के छात्र कोरोना ड्यूटी में लगाए जाएंगे।

5. ऑक्सीजन प्लांट के पास कोविड सेंटर बनेंगे।

Next Story