Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विधानसभा चुनाव के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री बोले- शादी समारोह और निकाय चुनावों से फैला कोरोना, 44 साल के युवा जिम्मेदार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने मंगलवार को 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों संग अहम बैठक की। जहां राज्यों में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर चर्चा हुई।

विधानसभा चुनाव के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री बोले- शादी समारोह और निकाय चुनावों से फैला कोरोना, 44 साल के युवा जिम्मेदार
X

पांच राज्यों में चल रहे विधानसभा चुनाव और किसान आंदोलन के बीच कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने बड़ा बयान दिया है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि शादी समारोह, निकाय चुनावों से कोरोना फैला है।

11 राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ हुई बैठक

डॉ हर्षवर्धन ने बीते मंगलवार को 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों संग अहम बैठक की। जहां राज्यों में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर चर्चा हुई। कोविड-19 के नए मामलों में अचानक हुई बढ़ोतरी को लेकर बयान भी दिया। बैठक के दौरान हर्षवर्धन ने कहा कि बड़ी-बड़ी शादियों, निकाय चुना और किसान आंदोनल के चलते कोरोना के मामले बढ़े हैं। कोविड-19 प्रोटोकॉल के नियमों का पालन न करने के चलते स्थिति खराब हुई है।

जानकारी के लिए बता दें कि स्वास्थ्य मंत्री की बैठक में दिल्ली, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक समेत 11 राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री मौजूद थे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा है कि रोज नए कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि का एक बड़ा कारण कोविड-19 नियमों का पालन न करना है। कुछ अभी भी नियंत्रण में है, लेकिन लापरवाही के कारण वृद्धि हुई है।

जन जागरूकता अभियान चलाने की अपील

उन्होंने कहा कि जन-जन तक पहुंचाने के लिए जन जागरूकता अभियान चलाएं, ताकि लोगों को फिर से जागरूक किया जाए। छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब और राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ कोविड-19 की स्थिति और टीकाकरण पर समीक्षा के दौरान वर्धन ने आगे कहा कि इन 11 राज्यों ने कुल मामलों में 54 फीसदी योगदान दिया और देश में होने वाली कुल मौतों में से 65 फीसदी महाराष्ट्र और पंजाब से आकंड़े हैं।

छत्तीसगढ़ का सबसे ज्यादा बुरा हाल

मंत्रालय ने कहा कि फरवरी के बाद से इन राज्यों में मामलों में भारी वृद्धि हुई है। जिनमें से अधिकांश 15-44 साल के युवाओं की आबादी शामिल है। साथ ही यह भी बताया गया कि 60 से अधिक उम्र के लोगों की सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। कोरोना वायरस से ठीक होने की दर 92.38 फीसदी है। देश में बढ़ते मामलों के बावजूद मृत्यु दर 1.30 फीसदी है। सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्य छत्तीसगढ़ है। जहां पर पॉजिटिविटी रेट 20 फीसदी और ग्रोथ रेट 8 फीसदी है।

और पढ़ें
Next Story