Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा में इन तीन फॉर्मूला से बन सकती है भाजपा-कांग्रेस की गठजोड़ वाली सरकार

हरियाणा विधानसभा चुनाव के परिणामों में किसी भी प्रमुख दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। लेकिन फिर भी भाजपा और कांग्रेस अन्य दलों से गठंबधन कर सरकार बनाने की कोशिशों में जुटी हुई है।

हरियाणा में इन तीन फॉर्मूला से बन सकती है भाजपा-कांग्रेस की गठजोड़ वाली सरकारभाजपा-कांग्रेस

हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election Result) के परिणामों में किसी भी प्रमुख दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। लेकिन फिर भी भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) अन्य दलों से गठंबधन कर सरकार बनाने की कोशिशों में जुटी हुई है। साफ है कि प्रमुख दलों को अन्य पार्टियों के साथ के बिना सरकार नहीं बना सकती है। लेकिन फिर भी यहां पर तीन ऐसे फॉर्मूले है, जिससे भाजपा, कांग्रेस दोनों गठजोड़ की सरकार बना सकते हैं, लेकिन सबसे पहले ज्याद सीट वाली पार्टी को सरकार बनाने का मौका दिया जाता है...

इन तीन फॉर्मूलों से बनेगी सरकार

1. भाजपा और निर्दलीय का गठबंधन- भाजपा के पास 40 सीटें हैं और वहीं अन्य दलों के पास 9 सीटें है। जबकि भाजपा को बहुमत के लिए 46 सीटें चाहिए। कई निर्दलीय उम्मीदवारों ने भाजपा को समर्थन दे दिया है।

2. भाजपा-जजपा गठबंधन - प्रदेश में भाजपा और जजपा मिलकर भी सरकार बना सकते हैं। भाजपा के पास 40 सीटें और दुष्यंत चौटाला की पार्टी जननायक जनता पार्टी के पास 10 सीटें है, दोनों के मिलते ही बहुमत पार हो जाएगा। इस बार दुष्यंत चौटाला की पार्टी जजपा किंगमेकर बनकर सामने आई है।

3. कांग्रेस-जेजेपी-अन्य का गठजोड़- अगर भाजपा सरकार नहीं बनाती है तो कांग्रेस जजपा और अन्य दल के नेता इस फॉर्मूले के तहत सरकार बना सकते हैं। कांग्रेस के पास 31 और जेजेपी के पास 10 सीटें हैं जो मिलकर 41 सीटें बनती हैं। ऐसे में दोनों के गठजोड़ के बाद 5 सीटें सरकार बनाने के लिए चाहिए होंगी। इसमें अन्य दलों से समर्थन की जरूर होगी।

Next Story
Top