Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haribhoomi-Inh News: प्रियंका गांधी का मिशन यूपी पिकनिक या प्रयास ? चर्चा प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ

Haribhoomi-Inh News: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि चर्चा कार्यक्रम में आज हम बात करेंगे उस उस विषय में बाकी सारे राज्यों से केवल इस राज्य पर केंद्रित हो गया है। हम बात करेंगे उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। लेकिन इस राज्य में चुनाव का माहौल अभी से ही तैयार हो गया है। कुल मिलाकर इस वक्त उत्तर प्रदेश में जो भी घट रहा है, आने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर ही घट रहा है।

Haribhoomi-Inh News: प्रियंका गांधी का मिशन यूपी पिकनिक या प्रयास ? चर्चा प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ
X

Haribhoomi-Inh News: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि चर्चा कार्यक्रम में आज हम बात करेंगे उस विषय में बाकी सारे राज्यों से केवल इस राज्य पर केंद्रित हो गया है। हम बात करेंगे उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। लेकिन इस राज्य में चुनाव का माहौल अभी से ही तैयार हो गया है। कुल मिलाकर इस वक्त उत्तर प्रदेश में जो भी घट रहा है, आने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर ही घट रहा है।

चाहे सत्तारूढ़ भाजपा हो, चाहे विरोधी दलों की बात करें बहुजन समाजवादी पार्टी, समाजवादी पार्टी समेत छोटे-छोटे दल भी अपनी जमावत में लग गए हैं। ऐसे ही माहौल में कांग्रेस पार्टी कैसे अछूती रह जाती। कांग्रेस पार्टी ने भी हाथ पैर मारना शुरू कर दिए हैं। कांग्रेस की तरफ से कमान गांधी परिवार की आखरी उम्मीद के तौर पर भारतीय राजनीति में आंकी जा रहीं प्रियंका गांधी के ऊपर है। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस पार्टी ने प्रियंका गांधी को राष्ट्रीय महासचिव का दर्जा दिया और उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी थी। कुछ कमाल ऐसा रहा कि उत्तर प्रदेश में जो सीट बची वो भी चली गई। इस दौरान राहुल गांधी भी अपनी अमेठी सीट से हार गए।

लेकिन प्रियंका गांधी जिस परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उस पराजय के बाद भी हिम्मत नहीं हारी और अपने दायित्व से मुंह नहीं मोड़ा। आखिरकार 1 माह के अंतराल के बाद प्रियंका गांधी एक बार फिर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंचीं। वहां पर उन्हें कई बैठक कीं। इसी खलबली के बीच भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने एक ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा कि पिकनिक मनाने के लिए प्रियंका गांधी एक बार फिर उत्तर प्रदेश पधारी हैं। लेकिन क्या एक राष्ट्रीय पार्टी की राष्ट्रीय पदाधिकारी को पिकनिक की नजर से ही देखा जाएगा या उनके प्रयासों को भी गंभीरता से लेने की जरूरत वर्तमान स्थिति में महसूस की जाएगी। इसी पर हमारा आज का हमारा विषय है। इसलिए हमारा आज का विषय भी है प्रियंका गांधी का मिशन यूपी और इसी मुद्दे पर हम बातचीत करेंगे इस मुद्दे पर बातचीत करने के लिए कई मेहमान हमारे साथ जुड़े हुए हैं....

इस दौरान कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने कांग्रेस प्रवक्ता सुरेंद्र राजपूत, पूर्व विधायक भाजपा बृजेश सौरभ, सपा पूर्व मंत्री शिव कुमार बेरिया और वरिष्ठ पत्रकार प्रेम कुमार से बातचीत की।

प्रियंका गांधी का मिशन यूपी पिकनिक या प्रयास ?

'चर्चा'

Next Story