Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haribhoomi-Inh News: ज्ञानवापी में 'बाबा' सच होगा दावा ?, प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ

Haribhoomi-Inh News: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि नमस्कार आपका स्वागत है हमारे खास कार्यक्रम चर्चा में, ज्ञानवापी में 'बाबा' सच होगा दावा ? आज का विषय है... वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद में दो दिनों का सर्वे खत्म हो गया है।

Haribhoomi-Inh News: ज्ञानवापी में बाबा सच होगा दावा ?, प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ
X

Haribhoomi-Inh News: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि नमस्कार आपका स्वागत है हमारे खास कार्यक्रम चर्चा में, ज्ञानवापी में 'बाबा' सच होगा दावा ? आज का विषय है... वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद में दो दिनों का सर्वे खत्म हो गया है।

ज्ञानवापी में हिंदू और मुस्लिम पक्ष के साथ आज भी वीडियोग्राफी की गई। सबूत खंगालने का काम चला लेकिन बिल्कुल शांतिपूर्ण ढंग से। कोई शोरगुल नहीं, हंगामा नहीं लेकिन सियासी दंगल में शोर भी सुनाई दे रहा है और हंगामा भी बरपा है। जिस मुद्दे का फैसला कोर्ट के दरवाजे से होना है, उसे ओवैसी हाइजैक करना चाहते हैं। ओवैसी अपनी व्याख्या के जरिए अपनी बात को सही साबित करने पर तुले हैं। बीजेपी की तरफ से भी करारा पलटवार हुआ है। क्या लोगों की भावनाओं को भड़का कर संविधान की रक्षा की जा सकती है? ऐसे ही चुभते हुए सवालों के साथ देखिए नेताओं की बड़ी बहस...

ज्ञानवापी में 'बाबा' सच होगा दावा ?

'चर्चा'

क्या है ज्ञानवापी मस्जिद पर विवाद

ज्ञानवापी मस्जिद-शृंगार गौरी मंदिर परिसर को लेकर हिंदू पक्ष ने दावा किया था कि वीडियोग्राफी निरीक्षण के दौरान एक शिवलिंग देखा गया था। वीडियोग्राफी सर्वेक्षण आज पूरा हो गया और रिपोर्ट कल तक वाराणसी जिला अदालत को सौंप दी जाएगी। इस बीच अदालत ने वाराणसी के जिलाधिकारी को उस स्थान को बंद करने का निर्देश दिया है जहां शिवलिंग मिला है। उस जगह को तुरंत सील करने का आदेश दिया गया। डीएम, वाराणसी पुलिस आयुक्त और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कमांडेंट, वाराणसी अब ज्ञानवापी मस्जिद परिसर की सुरक्षा के प्रभारी होंगे। मामले में एक हिंदू याचिकाकर्ता ने पहले मीडिया को बताया था कि वीडियोग्राफी निरीक्षण के दौरान परिसर के भीतर एक शिवलिंग देखा गया।

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का बयान

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अब एक और विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने मुसलमानों से मस्जिदों की रक्षा करने का आह्वान किया है। ओवैसी ने इससे पहले कहा था कि ज्ञानवापी मस्जिद एक मस्जिद थी और यह फैसले के दिन तक रहेगी, इंशाअल्लाह। वाराणसी की कोर्ट में घुसकर ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर शिवलिंग की सुरक्षा के लिए प्रशासन को आदेश देते हुए ओवैसी ने कहा कि ज्ञानवापी एक मस्जिद थी और हमेशा के लिए वहीं रहेगी।

और पढ़ें
Next Story