Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haribhoomi-Inh News: संघ प्रमुख का बयान सियासी घमासान 'चर्चा' प्रधान संपादक Dr Himanshu Dwivedi के साथ

Haribhoomi-Inh Exclusive: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने ‘संघ प्रमुख मोहन भागवत के बयान के बाद सियासी घमासान पर बातचीत की।

Haribhoomi-Inh News: संघ प्रमुख का बयान सियासी घमासान चर्चा प्रधान संपादक Dr Himanshu Dwivedi के साथ
X

Haribhoomi-Inh Exclusive: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने 'संघ प्रमुख मोहन भागवत के बयान के बाद सियासी घमासान पर बातचीत की। दरअसल राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत के एक बयान के बाद राजनीतिक विवाद शुरु हो गया है… उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले संघ प्रमुख मोहन भागवत ने एक कार्यक्रम के दौरान DNA को लेकर बयान दिया।

संघ प्रमुख ने कहा कि सभी भारतीयों का DNA एक है, भले ही वे किसी भी धर्म के क्यों न हों। क्योंकि ये दोनों अलग नहीं, बल्कि एक ही हैं। उनके इस बयान बाद लगातार पलटवार का दौर जारी है। इसके बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने चुटकी ली और पूछा- क्या भागवत मोदी-शाह को भी यह शिक्षा देंगे। वहीं विपक्ष को हावी होता देख केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने ओवैसी व दिग्विजय को निशाना बनाते हुए कहा कि इनके सुर देश को जोड़ने वाले नहीं हैं, बल्कि देश को तोड़ने वाले सुर हैं…

कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने भाजपा वरिष्ठ नेता डॉ दीपक विजयवर्गीय, वरिष्ठ पत्रकार राहुल देव, विश्व संवाद केंद्र अध्यक्ष प्रशांत पोल और उन्नाव अ. जामा मस्जिद कमेटी से जमीर अहमद खान से खास चर्चा की। खास कार्यक्रम के दौरान इन मेहमानों से कई सवाल पूछे...

संघ प्रमुख का बयान सियासी घमासान

'चर्चा'

मोहन भागवत के बयान पर बयानबाजी

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने 4 जुलाई को राष्ट्री मुस्लिम मंच से एक बड़ा बयान दिया। जिसके बाद कई नेताओं ने उनके बयान पर पलटवार किया। असदुद्दीन ओवैसी से लेकर मायावती तक ने टिप्पणी की। उन्होंने मुसलमानों से डर के चक्र में नहीं फंसने का आग्रह किया और कहा कि भारत में इस्लाम खतरे में है। उन्होंने लिंचिंग में शामिल लोगों पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वे हिंदुत्व के खिलाफ हैं।

भागवत ने कहा कि हालांकि कई बार लोगों के खिलाफ लिंचिंग के कुछ झूठे मामले दर्ज किए गए हैं। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मुसलमानों और अन्य अल्पसंख्यकों की मॉब लिंचिंग के दोषियों से हिंदुत्व की विचारधारा को दूर करने के प्रयासों पर आरएसएस नेता मोहन भागवत पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग हिंदुत्व के खिलाफ हैं। ऐसे अपराधी जो गाय और भैंस के बीच का अंतर नहीं जानते। लेकिन एक विशेष समुदाय के नामों के आधार पर लोगों को मारने का तरीका जानते हैं।

Next Story