Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गोवा में ऑक्सीजन की कमी से होने वाली मौतों पर सरकार का बड़ा बयान, गलत अफवाह न फैलाए

गोवा में ऑक्सीजन की कमी से हो रही मौत को लेकर सरकार ने बड़ा बयान जारी करते हुए मौतों की जिम्मेदारी लेने से साफ इनकार कर दिया है।

गोवा में ऑक्सीजन की कमी से होने वाली मौतों पर सरकार का बड़ा बयान, गलत अफवाह न फैलाए
X

गोवा में ऑक्सीजन की कमी से हो रही मौत को लेकर सरकार ने बड़ा बयान जारी करते हुए मौतों की जिम्मेदारी लेने से साफ इनकार कर दिया है। बीते दिन विपक्षी पार्टी गोवा फॉरवर्ड ने मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत से इस्तीफे की मांग की थी। बता दें गोवा मेडिकल अस्पताल में लगातार मरीजों की मौत हो रही है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गोवा मेडिकल अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से होने वाली मौतों के मामले पर सरकार ने जिम्मेदारी लेने से साफ इनकार कर दिया। मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और स्वास्थ्य मंत्री ने इस बात से इनकार कर दिया है कि गोवा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मौतें ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई हैं। सरकार ने कहा कि मौतों को ऑक्सीजन की कमी से आपस में जोड़ा नहीं जा सकता है।

जानकारी के लिए बता दें कि बीते दिन विपक्षी पार्टी गोवा फॉरवर्ड के नेता विजय सरदेसाई ने दावा करते हुए कहा था कि गोवा मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी के चलते लगातार मौतें हो रही हैं। इस मामले पर राज्य के मुख्यमंत्री को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए। बीते शुक्रवार को गोवा मेडिकल कॉलेज में 8 मरीजों की मौत हो गई। लगातार पांच दिनों तक 83 मरीजों की ऑक्सीजन कमी की वजह से मौत हुई है।

सरदेसाई ने कहा था कि गोवा राज्य के 60 साल पूरे होने पर केंद्र सरकार मदद के लिए सेलिब्रेशन के लिए पैसा दे रही है। लेकिन इलाज के लिए कि नहीं। सरदेसाई ने सवाल खड़े करते हुए कहा है कि सेलिब्रेशन के लिए अगर 300 करोड़ मिल सकते हैं तो कोरोना संकट में केंद्र सरकार ने गोवा की मदद क्यों नहीं की।

वहीं दूसरी तरफ गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने घोषणा करते हुए कहा है कि राज्य सरकार 21 निजी कोरोना अस्पतालों की भर्ती प्रोटोकॉल को अपने हाथों में लेगी। इन अस्पतालों में कोरोना के इलाज के लिए 50 फ़ीसदी बेड आरक्षित नहीं किए गए। साथ ही उन्होंने कहा कि सोमवार से कई निर्णय लागू होंगे। इन अस्पतालों में अब कोविड मरीजों का मुफ्त इलाज किया जाएगा।

Next Story