Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पहली जापान की महिला पर्वतारोही के आगे नतमस्तक हुआ गू्गल, 80वें जन्मदिन के सम्मान में डूडल

जापान की पहली महिला जुन्को तबेई (Junko Tabei), जिन्होंने 1975 में माउंट ऐवरेस्ट (Mount Everest) पर सफलतापूर्वक पर्वतारोहन किया था। उनके 80 वें जन्मदिन पर उनके सम्मान में गूगल ने डूडल (Google Doodle) पेश किया।

पहली जापान की महिला पर्वतारोही के आगे नतमस्तक हुआ गू्गल, 80वें जन्मदिन के सम्मान में डूडल

गूगल (Google) समय समय पर अपने लोगो को अस्थायी तौर बदलता रहता है। इस बदले हुए लोगो को गूगल डूडल (Google Doodle) नाम से जाना जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य होता है छुट्टियों, घटनाओं, उपलब्धियों और उल्लेखनीय ऐतिहासिक आंकड़ों को याद करना। गूगल ने आज जापानी पर्वतारोही जुन्को ताबोई (Climber Junko Tabei) को उनके 80 वें जन्मदिन (80th Birthday) पर डूडल बनाकर सम्मानित किया है।

जुन्को ताबोई पहली जापानी महिला थी जो माउंट ऐवरेस्ट की चोटी पर चढ़ी थीं। साथ ही वह इस महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ने वाली पहली महिला भी थीं। उनका जन्म 1939 में जापान के फुकुशिमा नाम के छोटे से कस्बे में हुआ था। उन्हें दस वर्ष की उम्र से ही पर्वतारोहन का शौक थी। दस वर्ष की उम्र में वह माउंट नासू की क्लास ट्रिप पर गई थीं।

महिलाओं को घरों के भीरत रहने की धारणा में बदलाव लाने के लिए उन्होंने पहली लेडीज़ क्लाइम्बिंग क्लब की स्थापना की। जुन्को ने वर्ष 1975 में उन्होंने माउंट ऐवरेस्ट पर चढ़ने वाली पहली जापानी महिला होने का खिताब हासिल किया। एक बार उन्होंने यह भी कहा था कि, वह माउंट ऐवरेस्ट पर चढ़ने वाली पहली महिला नहीं बनना चाहती है। हालांकि, उन्हें दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ने वाले 36 वें व्यक्ति के रूप में याद किया जाए।

माउंट ऐवरेस्ट पर सफल चढ़ाई के बाद उन्हें जापान के सम्राट, क्राउन प्रिंस और राजकुमारी द्वारा स्म्मानित किया गया था। ऐवरेस्ट की सफल चढ़ाई के बाद उन्होंने प्रत्येक महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ाई की। जो कि हैं- एकांकागुआ, डेनाली, किलिमंजारो, विंसन, एल्ब्रस और पुणक जया। वह अंतत: 76 विभिन्न देशों के पर्वतों तक पहुंच गईं।

Next Story
Share it
Top