Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Earthquake: शुक्रवार को पांच राज्यों में आया भूकंप, वैज्ञानिकों ने जारी की बड़ी तबाही की चेतावनी

Earthquake: गुरुवार की आधी रात से लेकर शुक्रवार के दिन तक पांच अलग-अलग राज्यों में भूकंप के झटके आ चुके हैं। महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर, यूपी, असम, मिजोरम में झटके महसूस किए गए।

Earthquake: शुक्रवार को पांच राज्यों में आया भूकंप, जोन 5 में हो सकती है बड़ी तबाही
X
Earthquake: शुक्रवार को पांच राज्यों में आया भूकंप, जोन 5 में हो सकती है बड़ी तबाही

Earthquake: गुरुवार की आधी रात से लेकर शुक्रवार के दिन तक पांच अलग-अलग राज्यों में भूकंप के झटके आ चुके हैं। महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर, यूपी, असम, मिजोरम में झटके महसूस किए गए। भूकंप की तीव्रता कम ही रही और जान-माल का नुकसान नहीं हुआ। नैशनल सेंटर फॉर सिस्मलॉजी के अनुसार कम व अधिक तीव्रता के भूकंप आ सकते हैं। लोगों में दहशत का माहौल निर्मित हो गया और वे अपने घरों से बाहर निकलकर भागे।

पिछले कुछ समय से देश के अलग-अलग हिस्सों में भूकंप के झटके रह-रहकर महसूस किए जा रहे हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि हिमालय के आसपास धरती के नीचे काफी उथल-पुथल हो रही है, इस कारण भूकंप आ रहे हैं। वैज्ञानिकों ने बड़े भूकंप की चेतावनी भी जारी की है।

पालघर, जम्मू व अलीगढ़ थर्राए

भूकंप का सबसे पहला झटका महाराष्ट्र के पालघर में रात 12 बजकर 26 मिनट पर महसूस किया गया। रिक्टर पैमाने पर इन झटकों की तीव्रता 3.1 मापी गई। भूकंप का केंद्र जमीन से 5 किलोमीटर अंदर था।

जम्मू-कश्मीर में भी भूकंप के झटके आए। सुबह 5 बजकर 11 मिनट पर जम्मू-कश्मीर में कटरा से 89 किलोमीटर पूर्व की तरफ झटके आए। रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3 रही। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भी सुबह 6 बजकर 2 मिनट बजे झटके आए। बागपत में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। इस झटके की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.0 रही।

असम-मिजोरम में तेज लगे झटके

पूर्वोत्तर के राज्य असम में तेजपुर के पास भूकंप के झटके दिन में 11 बजकर 8 मिनट पर महसूस किए गए। भूकंप का केंद्र तेजपुर से 58 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में जमीन से 25 किलोमीटर की गहराई में रहा। रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 3.5 रही।

भूकंप का पांचवां झटका पूर्वोत्तर के छोर मिजोरम के चम्फाई से 29 किलोमीटर दूर जमीन से 10 किमी की गहराई में रहा। 11 बजकर 16 मिनट पर आए भूूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.8 मापी गई।

इन जगहों पर है भूकंप का बड़ा खतरा

भारतीय मानक ब्यूरो ने विभिन्न एजेंसियों से प्राप्त वैज्ञानिक जानकारियों के आधार पर पूरे भारत को चार भूकंपीय जोनों में बांटा है। इसमें सबसे ज्यादा खतरनाक जोन 5 है। वैज्ञानिकों के अनुसार, इस क्षेत्र में रिक्टर स्केल पर 9 तीव्रता का भूकंप आ सकता है। जोन-5 में पूरा पूर्वोत्तर भारत, जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्से, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड गुजरात में कच्छ का रन, उत्तर बिहार का कुछ हिस्सा और अंडमान निकोबार द्वीप समूह शामिल है। इस क्षेत्र में अक्सर भूकंप आते रहते हैं।

Next Story