Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

DRDO को फिर मिली बड़ी कामयाबी, सतह से हवा में मार करने वाली Missile 'Akash-NG' का सफल परीक्षण, जानें खासियतें

नई पीढ़ी की आकाश मिसाइल (आकाश-एनजी) का सुबह 11 बजकर 45 मिनट पर ओडिशा तट के चांदीपुर में मिसाइल लॉन्च की।

DRDO को फिर मिली बड़ी कामयाबी, सतह से हवा में मार करने वाली Missile Akash-NG का सफल परीक्षण, जानें खासियतें
X

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) को एक बार फिर आज एक बड़ी कामयाबी मिली। आत्मनिर्भर भारत के तहत भारत में बनी आकाश एनजी मिसाइल का सफल परीक्षण हुआ। इस मिसाइल को सेना की ताकत बढ़ाने के लिए विकसित किया है। नई पीढ़ी की आकाश मिसाइल (आकाश-एनजी) का सुबह 11 बजकर 45 मिनट पर ओडिशा तट के चांदीपुर में मिसाइल लॉन्च की।

आकाश-एनजी यानी आकाश न्यू जेनरेशन मिसाइल सतह से हवा में मार गिराने वाली एक मिसाइल है। पिछले दो दिनों में 30 किलोमीटर तक निशाना लगाने वाली मिसाइल का यह दूसरा परीक्षण है। इसे भारतीय वायुसेना के लिए बनाया गया है।

बता दें कि आकाश-एनजी मिसाइल बनाने की अनुमति डीआरडीओ को साल 2016 में मिली थी। इस मिसाइल में डुअल पल्स सॉलिड रॉकेट मोटर है। जिससे इसकी स्पीड बढ़ जाती है। इस मिसाइल की रेंज 40 से 80 किमी है। अगर इसकी खासियत की बात करें तो इसके अलावा इसमें एक सक्रिय इलेक्ट्रॉनिक स्कैन एरे मल्टी फंक्शन रडार भी फिट किया गया है। जो कि कई दुश्मनों की मिसाइलों या विमानों को स्कैन कर सकता है।

मिसाइल का कुल वजन 720 किलोग्राम बताया जा रहा है। इसकी लंबाई 19 फीट और व्यास 1.16 फीट है। पहला 30 किलोमीटर और दूसरा 40 किलोमीटर की रेंज है। तीसरा आकाश-एनजी की रेंज 80 किलोमीटर है। यह दुश्मन को भागने की तैयारी करने का मौका नहीं देता है। इसकी स्पीड 3.5 मच यानी 4321 किलोमीटर प्रति घंटा है। यानी यह एक सेकेंड में डेढ़ किलोमीटर की दूरी तय करता है। पिछले दो दिनों में 30 किलोमीटर तक मार करने वाली वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली का यह दूसरा परीक्षण है।

Next Story