Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इंडिया का नाम भारत करने की मांग ने पकड़ा जोर, पूर्व मुख्यमंत्री ने भी किया समर्थन

पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने जैन मुनि आचार्य विद्यासागर महाराज द्वारा उठाई गई मांग का समर्थन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा है कि देश का नाम भारत ही लिखा और बोला जाना चाहिए।

इंडिया का नाम भारत करने की मांग ने पकड़ा जोर, पूर्व मुख्यमंत्री ने भी किया समर्थन
X

पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने जैन मुनि आचार्य विद्यासागर महाराज द्वारा उठाई गई मांग का समर्थन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा है कि देश का नाम भारत ही लिखा और बोला जाना चाहिए।

इसके लिए उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में लगी उस अर्जी का समर्थन भी किया है जिसमें इंडिया की जगह देश को सिर्फ भारत ही बोलने की बात कही गई है। उमा भारती ने ट्वीट के जरिये प्रधानमंत्री मोदी से यह मांग की है।

उमा ने शनिवार को अलग-अलग दस ट्वीट के जरिये प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल की सराहना करते हुए कहा है कि इंडिया हमें अंग्रेजों का दिया हुआ संबोधन और गुलामी की याद दिलाता है।

भारत माता को प्रतीक्षा है कि पीएम मोदी, उसके माथे पर लगाए गए इंडिया शब्द को पोंछ दें और हमारा देश भारत के नाम से जाना जाए। भारत नाम होने से भारत की आर्थिक और सांस्कृतिक प्रतिष्ठा में बदलाव आएगा जिसे सभी धर्मों के लोग सम्मान के साथ स्वीकार करेंगे।

उन्होंने कहा कि कोरोना त्रासदी में भारत के अर्थशास्त्र के गठन का मौका पीएम मोदी के हाथ आया है। जब इस विभीषिका से बाहर निकलेंगे तो इंडिया से भारत की ओर लौटेंगे। इसके लिए उन्होंने पंच ज यानी जन, जमीन, जल, जंगल और जानवर को अपनाने और आर्थिक पुनर्जागरण का आधार बनाने के लिए काम करने को कहा है।

Next Story