Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi IED Blast: इजराइली दूतावास के बाहर हमले की जिम्मेदारी जैश-उल हिंद ने ली, खुफिया एजेंसियां जांच में जुटी

Delhi IED Blast: धमाका दिल्‍ली में उस वक्‍त हुआ जब यहां बीटिंग रिट्रीट का आयोजन हो रहा था। धमाका स्‍थल बीटिंग रिट्रीट से मात्र डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर था। इजरायल दूतावास के पास हुए धमाके की जिम्मेदारी फिलहाल किसी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है। इस घटना के बाद से कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है।

बस में बम होने की सूचना मिलने से मचा हड़कंप
X

दिल्ली पुलिस (प्रतीकात्मक फोटो)

Delhi IED Blast दिल्ली के लुटियंस इलाके में स्थित इजरायली दूतावास के बाहर हुये बलास्ट में पुलिस के हाथ सुराग लगा है। बीती रात दिल्ली में धमाके के बाद पूरी दिल्ली हिल गई थी। हालांकि इस धमाके में कोई हाताहत नहीं हुआ, लेकिन घटनास्थल पर मौजूद कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गईं। जांच के दौरान इजरायली दूतावास के पास पुलिस को एक लिफाफा मिला है, जिस पर इजरायली दूतावास को लेकर कुछ जिक्र था। वहीं, जांच एजेंसियों को 3 सीसीटीवी कैमरों से भी कुछ सुराग हाथ लगे हैं। धमाका दिल्‍ली में उस वक्‍त हुआ जब यहां बीटिंग रिट्रीट का आयोजन हो रहा था। धमाका स्‍थल बीटिंग रिट्रीट से मात्र डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर था।

इजरायल दूतावास के पास हुए धमाके की जिम्मेदारी फिलहाल किसी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है। इस घटना के बाद से कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। बम धमाके को लेकर तेजी से जांच जारी है। दिल्ली पुलिस राष्ट्रीय राजधानी में बसे सभी ईरानियों का ब्योरा जुटा रही है। इसके अलावा दिल्ली के सभी होटलों से संपर्क किया जा रहा है और वहां रुके ईरानियों की जानकारी ली जा रही है। दिल्ली एयरपोर्ट और बाकी संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। वहीं इजरायली दूतावास के बाहर हुए ब्लास्ट की जांच को लेकर जो तथ्य सामने आ रहे हैं उन्हें देखकर लगता है कि ब्लास्ट से पहले ठीक तरह से रेकी की गई थी और फिर घटना को अंजाम दिया गया है। दरअसल, बताया जा रहा है कि धमाका जिंदल हाउस के सामने हुआ था। यहां सीसीटीवी नहीं है। दिलचस्प बात यह भी है कि इस जगह आस-पास के भी कई सीसीटीवी कैमरे खराब पड़े हैं।

live update....

इजरायल के राजदूत रॉन मलका ने कहा कि हमें पूरा भरोसा है कि भारतीय अधिकारी भारत में इजराइल के प्रतिनिधियों की रक्षा करने के लिए जो भी कदम उठाने की जरूरत होगी वो कदम उठाएंगे और इसके लिए जो लोग ज़िम्मेदार है उन्हें ढूढेंगे।

जैश-उल हिंद ने ली जिम्मेदारी

भारत की खुफिया एजेंसियों ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टेलिग्राम पर एक चैट में पाया कि इजरायली दूतावास के बाहर आईईडी विफोट की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-उल हिंद ने ली है। इस संगठन ने दावा किया है कि उसने ही इजरायली दूतावास के सामने धमाका करवाया है। देश की खुफिया एजेंसियां इस बात की जांच में जुट गई है।

धमाके में कोई हताहत नहीं

दिल्ली के लुटियंस इलाके में औरंगजेब रोड पर स्थित इजराइली दूतावास के बाहर शुक्रवार की शाम मामूली आईईडी विस्फोट हुआ है। हालांकि धमाके में कोई हताहत नहीं हुआ। पुलिस ने यह जानकारी दी। दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी अनिल मित्तल ने कहा कि अति-सुरक्षित इलाके में हुए धमाके में कुछ कारें क्षतिग्रस्त हुई हैं और प्रारंभिक जांच में प्रतीत हुआ है कि किसी ने सनसनी पैदा करने के लिये यह शरारत की। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों के संपर्क में हैं और हालात पर नजर बनाए हुए हैं। दिल्ली पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव ने घटनास्थल का दौरा कर हालात का जायजा लिया।

विस्फोट स्थल पर जांचकर्ताओं को पता लिखा एक लिफाफा मिला

वहीं, पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद कहा कि दिल्ली पुलिस का विशेष प्रकोष्ठ दूतावास के बाहर हुए आईईडी धमाका मामले की जांच कर रहा है। सूत्रों ने बताया कि विस्फोट स्थल पर जांचकर्ताओं को इजराइली दूतावास का पता लिखा एक लिफाफा मिला है। हालांकि, उन्होंने लिफाफे में मिली टिप्पणी और इससे संबंधित कोई भी जानकारी साझा नहीं की। धमाका उस समय समय हुआ जब वहां से कुछ दूर किलोमीटर दूर गणतंत्र दिवस समारोहों के सपमान के तौर पर होने वाला 'बीटिंग रीट्रिट' कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वैकेंया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मौजूद थे। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने घटना को लेकर इजराइल के विदेश मंत्री गाबी अश्केनाज से फोन पर बात कर उन्हें इजराइल के राजयनिकों और उसके मिशनों की पूरी सुरक्षा का आश्वासन दिया है।

इन जगहों पर बढ़ाई गई सुरक्षा

सूत्रों ने कहा कि धमाके के बाद, हवाई अड्डों, महत्वपूर्ण परमाणु तथा अंतरिक्ष विज्ञान प्रतिष्ठानों, दिल्ली मेट्रो तथा केन्द्र सरकार के भवनों की सुरक्षा करने वाले सीआईएसएफ को सतर्क कर दिया गया है। फरवरी 2012 में दिल्ली में इजराइली दूतावास के एक राजनयिक की कार पर हमला हुआ था जब एक मोटरसाइकिल सवार ने ट्रैफिक सिग्नल पर कार में विस्फोटक लगा दिया था। कुछ ही सेकेंड बाद कार में धमाका हुआ और राजयनिक तथा तीन अन्य लोग घायल हो गए थे। इससे पहले, दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी अनिल मित्तल ने कहा कि बहुत ही कम क्षमता का आईईडी विस्फोट हुआ है।

Next Story