Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दिल्ली चुनाव का है बिहार चुनाव से तगड़ा कनेक्‍शन, तेजस्वी ने लगाया है पूरा जोर

दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद बिहार में इस साल के अंत में चुनाव होने हैं। ऐसे में आरजेडी और जेडीयू अपने गठबंधन दलों के साथ आगे बढ़ना चाहती है। इसके कारण तेजस्वी ने दिल्ली में आकर चुनाव प्रचार भी किया था।

दिल्ली चुनाव का है बिहार चुनाव से तगड़ा कनेक्‍शन, तेजस्वी ने लगाया है पूरा जोरतेजस्वी यादव

दिल्ली विधानसभा चुनाव से बिहार चुनाव का कनेक्शन भी निकल कर आ रहा है। दिल्ली चुनाव के जरिए अलग-अलग पार्टियों ने बिहार में चुनाव जीतने की रणनीति पर काम किया है। बिहार में इस साल के अंत में होने वाले चुनाव से पहले राजद नेता तेजस्वी यादव ने दिल्ली चुनाव में पूरा जोर लगाकर प्रचार भी किया था। अपने उम्मीदवारों के साथ कांग्रेस प्रत्याशियों के लिए भी वोट मांगे थे। ताकि आगामी चुनाव में बिहार में गठबंधन कर जदयू-भाजपा को हराया जा सके।

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) नेता तेजस्वी यादव ने विकासपुरी विधानसभा में कांग्रेस और उत्तम नगर के आरजेडी उम्मीदवार शक्ति सिंह बिश्नोई के समर्थन में वोट मांगे थे। कांग्रेस ने इस बार दिल्ली में 66 सीटों पर उम्मीदवारों को उतारा है तो वहीं आरजेडी ने 4 सीटों पर उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है। आरजेडी पार्टी ने दिल्ली के किराड़ी, बुराड़ी, उत्तम नगर और पालम सीट पर उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है।

विकासपुरी में रैली के दौरान तेजस्वी यादव ने कहा था कि 70 सीटो पर आरजेडी और कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ रही है। दिल्ली में जो चुनाव होने जा रहा है, वो आम चुनाव नहीं हैं। झारखंड में भी बीजेपी को लगता था कि जीत कर आएंगे, लेकिन धूल चटा दी गई। यहां भी वही होगा।

तेजस्वी यादव ने दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के लिए अपनी पार्टी और कांग्रेस उम्मीदवारों के समर्थन में यहां दो रोड शो और दो रैलियां की थी। कांग्रेस ने पहली बार दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए राजद के साथ गठबंधन किया। इसका मुख्य उद्देश्य बिहार के आगामी विधानसभा चुनाव पर इन दोनों पार्टियों के गठबंधन को दे खा जा सकता है।

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के बुराड़ी में अमित शाह की रैली में बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी पहुंचे थे और रैली को संबोधित किया था। ऐसे में उनका दिल्ली चुनाव में आना अपना गठबंधन धर्म और आगामी विधानसभा चुनाव की रूप रेखा पहले से ही तय कर लेना। ऐसे में ये दोनों पार्टियां बिहार में भाजपा और कांग्रेस के साथ चुनाव लड़ेंगे।

Next Story
Top