Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Death Anniversary: शाहजहां के बेटों ने पढ़ी थी भगवद गीता, जानिए शाहजहां से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

Death Anniversary: भारत पर राज करने वाले शाहजहां का जन्म 5 जनवरी 1592 में हुआ था। आगरा के किले में अपने कैदी जीवन के आठवें साल 22 जनवरी 1666 को उनका निधन हो गया था।

शाहजहां के बेटों ने पढ़ी थी भगवद गीता, जानिए शाहजहां से जुडे कुछ रोचक तथ्यशाहजहां के बेटों ने पढ़ी थी भगवद गीता (फाइल फोटो)

Death Anniversary: मध्यकालीन भारतीय इतिहास में अकबर के पुत्र जहांगीर के बाद सिंहासन पर शाहजहां का राज रहा। खुर्रम नाम से प्रख्यात शाहजहां ने 1628 में भारत का तख्तब संभाला था। 5 जनवरी 1592 ई खुर्रम शाहजहां का जन्म लाहौर में हुआ। 22 जनवरी 1666 में उनका निधन हो गया था। आइए शाहजहां के जीवन से जुडी कुछ बातें आपको बताते है, जो आप शायद न जानते हो।

शाहजहां जहांगीर के बाद उसके द्वितीय पुत्र खुर्रम ने 1628 में तख्त संभाला। खुर्रम ने ही शाहजहां का नाम ग्रहण किया। खुर्रम का अर्थ होता है दुनिया का राजा।

-जोधपुर के शासक मोटा राजा उदय सिंह की बेटी जगत गोसाई ने लाहौर में 5 जनवरी 1592 खुर्रम शाहजहां को जन्म दिया।

- 1612 में शाहजहां का विवाह आसफ खान की बेटी अरजुमंद बानो बेगम से हुआ, जिसे शाहजहां ने मलिका-ए-जमानी की उपाधि प्रदान की थी। 1631 ई में प्रसव पीड़ा के कारण उसकी मृत्यु हो गई।

- 24 फरवरी 1628 ई में शाहजहां आगरे में अबुल मुजफ्फर शहाबुद्दीन मुहम्मद साहिब किरन-ए-साहिब की उपाधि प्राप्तकर सिंहासन पर बैठा गया।

- आगरा में ताजमहल को बनाने वाले कलाकार का नाम उस्ताद अहमद लाहौरी था।

- शाहजहां ने दिल्ली का लालकिला, दीवाने आम, दीवाने खास, दिल्ली की जामा मस्जिद, आगरा की मोती मस्जिद बनवाई।

- आगरा की जामा मस्जिद का निर्माण शाहजहां की बेटी जहांआरा ने करवाया।

- शाहजहां के बेटों में दाराशिकोह सबसे बुद्धिमान था, उसने भगवद गीता और योगवशिष्ठ उपनिषद् और रामायण का अनुवाद फारसी में करवाया।

- शाहजहां ने दिल्ली में एक कॉलेज का निर्माण करवाया और दारूल बका कॉलेज की मरम्मत कराई।

- शाहजहां के बीमार पड़ने पर उसके चारों बेटों दारा शिकोह, शाहशुजा, औरंगज़ेब और मुराद बख़्श में 1657 ई में उत्तराधिकार के लिए संघर्ष शुरू हो गया था।

- 18 जून को 1658 ई में औरंगजेब ने शाहजहां को बंदी बना लिया था।

- आगरा के किले में अपने कैदी जीवन के आठवें साल मतलब 22 जनवरी 1666 ई को शाहजहां की मृत्यु हो गई थी।

Next Story
Top