Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Cyclone Nivar Map: जानें मैप के जरिए कैसे बंगाल की खाड़ी से आंध्र और तमिलनाडु पहुंच रहा है खतरनाक तूफान 'निवार'

Cyclone Nivar: चेन्नई में पिछले 24 घंटे से लगातार बारिश हो रही है। हालत ये है कि कई इलाकों में पानी भर गया है। पूर्व सीएम करुणानिधि के घर में भी पानी भर गया है और इसका वीडियो अब वायरल हो रहा है। पुडुचेरी की एलजी किरण बेदी ने कहा कि पुडुचेरी की जनता से मेरी अपील है कि आप अपने घरों में रहें, सरकार आपकी सेवा में हैं और आप बस उनकी बात सुनें तथा उनके नियमों के अनुसार चलें।

Cyclone Nivar: दक्षिण भारत के राज्यों में
X

दक्षिण भारत के राज्यों में 'निवार' तूफान का कहर

दक्षिण भारत में चक्रवाती तूफान 'निवार' कहर बरपाना शुरू कर दिया है। क्योंकि तमिलनाडु तूफान निवार के मद्देनज़र चेन्नई में जारी भारी बारिश की वजह से कई जगहों पर भारी जलभराव हुआ। वहीं बारिश और तेज़ हवा चल रही है। तेज़ हवा की वजह से सड़कों पर पेड़ टूटकर गिरे हुए हैं। जबकि आज किसी भी समय 'निवार' तूफान कराईकल और ममल्लापुरम के बीच तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों पर लैंडफॉल से तटकरा सकता है। चेन्नई में पिछले 24 घंटे से लगातार बारिश हो रही है। हालत ये है कि कई इलाकों में पानी भर गया है। पूर्व सीएम करुणानिधि के घर में भी पानी भर गया है और इसका वीडियो अब वायरल हो रहा है। पुडुचेरी की एलजी किरण बेदी ने कहा कि पुडुचेरी की जनता से मेरी अपील है कि आप अपने घरों में रहें, सरकार आपकी सेवा में हैं और आप बस उनकी बात सुनें तथा उनके नियमों के अनुसार चलें।


चक्रवाती तूफान 'निवार' अगले 12 घंटे में अति विकराल रूप धर बुधवार आधी रात या बृहस्पतिवार तड़के तमिलनाडु और पुडुचेरी के बीच तट से टकराएगा। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी दी। इस बीच सरकार ने कहा है कि चेम्बरमबक्कम झील में क्षमता से अधिक पानी होने की आशंका के चलते झील का पानी छोड़ा जाएगा।

बुधवार को आईएमडी द्वारा जारी बुलेटिन में कहा गया, "चक्रवाती तूफान के अगले 12 घंटे में अति विकराल रूप धरने की आशंका प्रबल है। इसके उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और 25 नवंबर की रात या 26 नवंबर तड़के तमिलनाडु और पुडुचेरी के बीच कराईकल और मामल्लापुरम पर तट से टकराने की आशंका है।

तूफान की गति 120-130 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी जो बढ़कर 145 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है। चेन्नई और आसपास के क्षेत्रों में रातभर बारिश हुई और निचले स्थानों में जलभराव हो गया। चक्रवात के खतरे को देखते हुए तमिलनाडु में बुधवार को अवकाश घोषित किया गया है।

इस बीच लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने कहा कि चेम्बरमबक्कम झील से एक हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा क्योंकि इसमें पानी अधिकतम स्तर पर पहुंचने वाला है। उन्होंने कहा कि पानी मध्याह्न 12 बजे से छोड़ा जाएगा। 'निवार' तूफान को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु और पुडुचेरी के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की। मोदी ने निचले इलाकों को खाली कराने और लोगों को सुरक्षित इलाकों में पहुंचाने पर जोर दिया। पीएम ने दोनों सीएम को हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया।

Next Story