Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Cyclone Amphan : अम्फान को लेकर पीएम मोदी का ट्वीट, मुश्किल घड़ी में देश बंगाल-ओडिशा के साथ

Cyclone Amphan : पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में चक्रवाती तूफान अम्फान का कहर धीरे-धीरे कम होता दिख रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि पूरा देश इस मुश्किल की घड़ी में बंगाल और उड़ीसा के साथ खड़ा है।

Cyclone Amphan : अम्फान को लेकर पीएम मोदी का ट्वीट, मुश्किल घड़ी में देश बंगाल-ओडिशा के साथ
X

Cyclone Amphan : पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में चक्रवाती तूफान अम्फान का कहर धीरे-धीरे कम होता दिख रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि पूरा देश इस मुश्किल की घड़ी में बंगाल और उड़ीसा के साथ खड़ा है। अब तक पश्चिम बंगाल में 12 लोगों की तूफान की वजह से मौत हो चुकी है।

बीते बुधवार को पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में चक्रवाती तूफान की रफ्तार 190 प्रति किलोमीटर बताई गई थी। लेकिन आज गुरुवार को यह रफ्तार धीमी पड़ती नजर आ रही है। अब तक पश्चिम बंगाल में तूफान की वजह से 12 लोगों की मौत हो चुकी है। तो वहीं 55100 घरों को नुकसान हुआ है।

चक्रवात अम्फान को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा राहत बल की टीमें प्रभावित क्षेत्रों में काम कर रही हैं। मोदी ने कहा कि पूरा देश बंगाल के साथ खड़ा है और कल के विनाशकारी चक्रवात अम्फन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

बतादें कि चक्रवात ने राज्य की राजधानी कोलकाता को कल चार घंटे से अधिक समय तक रोके रखा। पेड़ों को उखाड़ फेंका, बिजली के खंभे गिराए, इमारतों को नुकसान पहुँचाया और कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई। इस चुनौतीपूर्ण समय में पूरे देश में पश्चिम बंगाल के साथ एकजुटता है। राज्य के लोगों की भलाई के लिए प्रार्थना की है।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि राष्ट्रीय आपदा राहत बल की टीमें चक्रवात से प्रभावित क्षेत्रों में काम कर रही हैं। शीर्ष अधिकारी स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और पश्चिम बंगाल सरकार के साथ निकट समन्वय में भी काम कर रहे हैं। प्रभावितों की मदद करने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि अम्फान का प्रभाव कोरोनोवायरस महामारी से अधिक खराब था और दावा किया कि राज्य ने 1 लाख करोड़ रुपये के नुकसान का नुकसान किया है। बनर्जी ने एक बयान में कहा कि कोलकाता एक जंग के मैदान की तरह दिख रहा था, जिसमें गिरे हुए पेड़, बिजली के तार और सड़कें अवरुद्ध होने वाली इमारतें क्षतिग्रस्त थीं। कोलकाता हवाई अड्डे पर हवाई पट्टी पर जलभराव हो गया था। कम से कम दो जिले उत्तर और दक्षिण 24 परगना जिले - तटीय क्षेत्रों में 125 किमी प्रति घंटे की गर्म गति वाले तटीय क्षेत्रों में तेज हवाओं के साथ व्यापक नुकसान पहुंचा।

Next Story