Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Coronavirus: चीन की एक कंपनी ने कोरोना वायरस के इलाज का किया दावा

Coronavirus: चीन ने कहा है कि दिसंबर में पहला कोरोना वायरस पीड़ित मिलने के ढाई महीने बाद कोरोना वायरस का इलाज अब मिल गया है। इस इलाज को कोरोना वायरस के लिए सबसे भरोसेमंद इलाज माना जा रहा है।

Coronavirus: चीन की एक कंपनी ने कोरोना वायरस के इलाज का किया दावाकोरोना वायरस

Coronavirus: चीन से शुरु हुआ कोरोना वायरस अब दुनिया के कई हिस्सों में पहुंच गया है। जिससे दुनिया भर के लोगों में दहशत का माहौल है। चीन के बाद इंडिया और अफ्रीका में भी कोरोना वायरस ने अपने पांव फैला लिए हैं। शुक्रवार को मिस्र के स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इस बात की पुष्टि की है कि अफ्रीका में भी कोरोना वायरस का एक केस मिला है। गुरुवार तक चीन में कोरोना वायरस से 1367 मौतों को रिकॉर्ड किया गया है। इसी बीच चीन ने ऐलान किया है कि कोरोना वायरस का इलाज अब संभव हो सकता है।

चीन के अखबार चाइना डेली ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की है। जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि कोरोना वायरस का इलाज अब संभव है। उन्होंने कहा है कि इस तरीके से कई पीड़ितों का इलाज किया जा चुका है और वो ठीक भी हो चुके हैं।

क्या है इलाज

चीन की सरकारी मेडिकल कंपनी नेशनल बॉयोटिक ग्रुप के अनुसार कोरोना वायरस का इलाज उन लोगों के ब्लड प्लाज्मा से किया जा सकता है जो पहले इस बीमारी से पीड़ित थे और अब ठीक हो चुके हैं। उन्होंने बताया है कि इस तरीके से अब तक 10 मरीजों का इलाज किया जा चुका है और वो ठीक भी हो चुके हैं।

कैसे होगा इलाज

इस इलाज के लिए कोरोना वायरस से ठीक हुए व्यक्ति का ब्लड लिया जाएगा। ठीक हुए व्यक्ति में हाई एंटीबॉडी पाई जाती है। जिससे कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों का इलाज मुमकिन हो पाएगा।

चीन की नेशनल बॉयोटेक कंपनी कर रही गुजारिश

चीन की नेशनल बॉयोटेक कंपनी उन सभी लोगों से गुजारिश कर रही है जो कोरोना वायरस से पीड़ित थे और अब ठीक हो चुके हैं। उनका कहना है कि वो अपना रक्तदान करें और कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों की मदद करें। कंपनी ने कहा है कि उनके ब्लड में पाई जाने वाली एंटीबॉडी कोरोना वायरस को मारेगी। जिससे वायरस से मरने वालों की संख्या में कमी आएगी।

Next Story
Top