Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: AIIMS में कोरोना के नए हमले का खुलासा, फेफड़े के अलावा ब्रेन सिग्‍नल को भी कर रहा है डैमेज

Coronavirus: एम्‍स के चाइल्‍ड न्‍यूरोलॉजी विभाग के डॉक्‍टर ने बताया कि अब कोरोना का संक्रमण फेफड़े के अलावा शरीर के अन्य हिस्सों को भी प्रभावित करना शुरू कर दिया है।

Coronavirus: AIIMS में कोरोना के नए आक्रामक का खुलासा, फेफड़े के अलावा ब्रेन सिग्‍नल को भी कर रहा है डैमेज
X

Coronavirus

Coronavirus: दुनियाभर में फैले कोरोना संक्रमण अब तक ना जाने कितने लोगों की जान ले चुका है। कोरोना का सबसे ज्यादा असर बच्चों और बुजुर्ग व्यक्ति में देखने को मिल रहा है। जिसमें उम्रदराज के लोगों में कोरोना सबसे ज्यादा फेफड़े को प्रभावित करता है।

इस बीच दिल्‍ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान यानी एम्स ने कोरोना को लेकर एक नया खुलासा किया है, जो हैरान कर देने वाला केस है। जहां पहले कोरोना संक्रमण फेफड़े को नुकसान पहुंचाता आ रहा है, वहीं, अब के खुलासे में मस्तिष्‍क की नसों पर भी अटैक करना शुरू कर दिया है।

मासूम बच्ची में देखा गया यह केस

एम्‍स के डॉक्टर ने इस बात का खुलासा किया है। एम्‍स के चाइल्‍ड न्‍यूरोलॉजी विभाग के डॉक्‍टर का कहना है कि इस अस्पताल में ऐसा पहला केस आया है, जहां पाया गया कि कोरोना का अटैक अब फेफड़े के अलावा मस्तिष्‍क की नसों पर भी असर करना शुरू कर दिया है।

यह केस एक 11 साल की बच्‍ची में देखा गया। चाइल्‍ड न्‍यूरोलॉजी विभाग के डॉक्‍टर के मुताबिक, हमने 11 साल की बच्‍ची के मस्तिष्‍क में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण एक्‍यूट डिमालिनेटिंग सिंड्रोम (ADS) होने का मामला पाया है। बच्‍चों में यह पहला केस देखा गया है।

ब्रेन सिग्‍नल को कर रहा डैमेज

मस्तिष्‍क की यह नस माइलिन नामक प्रोटेक्टिव लेयर से घिरी होती है। यह मस्तिष्‍क से शरीर के दूसरे हिस्‍सों में संदेश पहुंचाने में मदद करती है। अब कोरोना वायरस के कारण एडीएस होने से माइलिन नष्‍ट हो रही है। जिसके चलते ब्रेन सिग्‍नल को नुकसान पहुंच रहा है।

इस नुकसान के कारण न्‍यूरोलॉजिकल या तंत्रिका तंत्र की प्रक्रिया को प्रभावित करके दृष्टि, मांसपेशियों, ब्‍लैडर आदि को नुकसान पहुंचा सकता है।

बच्ची को थी कमजोर नजर की शिकायत

वहीं, एम्‍स में डिपार्टमेंट ऑफ पेडियाट्रिक्‍स के चाइल्‍ड न्‍यूरो डिविजन की प्रमुख डॉ. शेफाली गुलाटी का कहना है कि इस 11 साल की बच्‍ची को कमजोर नजर की शिकायत थी। इसकी एमआरआई जांच की गई। जिसमें पता चला कि उसे एडीएस है।

जिससे यह पता चला है कि अब कोरोना वायरस फेफड़े के अलावा मस्तिष्‍क को नुकसान पहुंचा रहा है। इस बच्ची की एक विस्‍तृत रिपोर्ट तैयार कर, जल्‍द ही इसे प्रकाशित किया जाएगा।

Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story