Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सोनिया गांधी ने ब्लैक फंगस की दवा की कमी को लेकर पीएम मोदी को लिखा पत्र, ये अपील भी की

सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में इस बात जिक्र भी किया कि केंद्र ने राज्यों से ब्लैक फंगस को महामारी घोषित करने के लिए कहा है।

सोनिया गांधी ने ब्लैक फंगस की दवा की कमी को लेकर पीएम मोदी को लिखा पत्र, ये अपील भी की
X
सोनिया गांधी

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शनिवार को म्यूकोर्मिकोसिस (ब्लैक फंगस) के इलाज के लिए आवश्यक दवा की कमी की रिपोर्ट का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। साथ ही सोनिया गांधी ने बीमारी से पीड़ित लोगों के लिए तत्काल राहत की मांग की है।

सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में इस बात जिक्र भी किया कि केंद्र ने राज्यों से ब्लैक फंगस को महामारी घोषित करने के लिए कहा है। महामारी घोषित करने का मतलब है कि इसके उपचार के लिए जरूरी दवाओं का पर्याप्त उत्पादन और आपूर्ति सुनिश्चित करना जरूरी है और मरीजों की फ्री देखभाल की जाए।

सोनिया गांधी ने पत्र में कहा है कि एम्फोटेरीसिन-बी इस बीमारी के इलाज के लिए आवश्यक दवा है। लेकिन, ऐसी खबरें सामने आई हैं कि मार्केट में इस दवा की कमी है। यह बीमारी आयुष्मान भारत और कई अन्य बीमा के तहत कवर नहीं है।

सोनिया गांधी ने पीएम मोदी से अनुरोध किया है कि ब्लैक फंगस से प्रभावित हो रहे बड़ी संख्या में मरीजों को राहत देने के लिए तुरंत सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। सोनिया ने इस फंगस आयुष्मान भारत और अन्य स्वास्थ्य बीमा में कवर किए जाने की अपील की है।

देश में 8 हजार से ज्यादा ब्लैक फंगस के केस आए

बता दें कि केंद्र सरकार की अपील के बाद कई राज्यों ने ब्लैक फंगस को महामारी घोषित कर दिया है। इसमें राजस्थान, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश जैसे राज्य शामिल हैं। वहीं अन्य राज्यों ने कहा है कि इस स्थिति को देखते हुए वह भी महामारी घोषित कर सकते हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में अब तक ब्लैक फंगस के 8,848 मामले सामने आए हैं। जिसमें से 200 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरी तरफ ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों को चलते इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली एंटी-फंगल दवा एम्फोटेरिसिन-बी (Amphotericin B) दवा की डिमांड भी मार्केट में बढ़ गई है।

Next Story