Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चीनी कब्जे को लेकर राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशान, ट्वीट कर कही ये बात

कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा तीन केंद्रीय कृषि कानूनों (Three Central Agricultural Laws) को निरस्त करने की घोषणा के बाद सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें अब "चीनी कब्जे" की सच्चाई को स्वीकार करना चाहिए।

चीनी कब्जे को लेकर राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशान, ट्वीट कर कही ये बात
X

कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा तीन केंद्रीय कृषि कानूनों (Three Central Agricultural Laws) को निरस्त करने की घोषणा के बाद सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें अब "चीनी कब्जे" की सच्चाई को स्वीकार करना चाहिए।

कांग्रेस (Congress) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) अक्सर चीन के साथ सीमा पर तनाव से निपटने के लिए सरकार की आलोचना करते रहे हैं। राहुल गांधी ( Rahul Gandhi) ने सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, 'अब चीनी कब्जे की सच्चाई को भी स्वीकार करना चाहिए। इस बीच, भारत (India) और चीन (Chinese) गुरुवार को पूर्वी लद्दाख में संघर्ष के अन्य क्षेत्रों से सैनिकों की पूरी तरह से वापसी के मद्देनजर अगले दौर की सैन्य-स्तरीय वार्ता को जल्द से जल्द आयोजित करने पर सहमत हुए।


विदेश मंत्रालय के बयान के मुताबिक, पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) में नियंत्रण (LAC) पर वर्किंग मैकेनिज्म फॉर डिस्कशन एंड कोऑर्डिनेशन ऑन बॉर्डर अफेयर्स (WMCC) के डिजिटल माध्यम से हुई बैठक में दोनों पक्षों ने वास्तविक रेखा पर स्थिति के बारे में "स्पष्ट और गहराई" व्यक्त की। पिछली सैन्य स्तरीय वार्ता के बाद के घटनाक्रम पर चर्चा की और समीक्षा की।

अब तक हुई कई वार्ता रही विफल

इस गतिरोध को खत्म करने के लिए दोनों देशों के बीच कोर कमांडर स्तर पर 13 बार बातचीत हो चुकी है, लेकिन अभी तक बातचीत बेनतीजा रही है। हर दौर में दोनों पक्षों ने अलग-अलग बयान जारी कर एक-दूसरे पर वार्ता विफल होने का आरोप लगाया। भारत (india) ने कहा कि यथास्थिति को बदलने के लिए चीन (Chinese) के एकतरफा प्रयास गतिरोध के लिए जिम्मेदार थे, जबकि चीन ने आरोप लगाया कि भारत को मुश्किल-से-प्राप्त वर्तमान यथास्थिति को संजोना चाहिए।

Next Story