Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राहुल गांधी के करीबी कर रहे कांग्रेस से किनारा, अब जो बचे हैं वो भी हो चुके हैं बागी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले नेता अब कांग्रेस से किनारा कर रहे हैं। सुनहरे राजनीतिक भविष्य की उम्मीद में अब भाजपा के पास जा रहे हैं। अभी तक राहुल गांधी के काफी करीबी माने जाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया से लेकर जितिन प्रसारद किनारा कर चुके हैं।

राहुल गांधी के करीबी कर रहे कांग्रेस से किनारा, अब जो बचे हैं वो भी हो चुके हैं बागी
X

कांग्रेस नेता राहुल गांधी 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के पुराने साथी अब पार्टी से दूर जा रहे हैं। लोकसभा चुनाव 2019 से पहले राहुल गांधी के करीबी नेताओं में सचिन पायलट, ज्योतिरादित्य सिंधिया, मिलिंद देवड़ा और जितिन प्रसाद को माना जाता था। राहुल गांधी ने इन नेताओं को यूपीए सरकार में मंत्री भी बनवाया था। लेकिन 2019 में लोकसभा चुनावों के बाद राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देते ही पार्टी में इन चारों नेताओं की उपेक्षा शुरू कर दी गई। ऐसे में राहुल गांधी के कभी मजबूत पिलर रहे दो युवा नेता भाजपा में जा चुके हैं और बचे हुए दोनो नेता बगावत कर चुके हैं।

मध्यप्रदेश की राजनीति में कांग्रेस के सबसे मजबूत नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस को छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया। इसके साथ ही मध्यप्रदेश में सत्ता का तख्तापलट कर भाजपा की सरकार बनवा दी। इसके बाद अब यूपी में कांग्रेस के बड़े नेता जितिन प्रसाद ने भी कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया।


सचिन पायलट कर चुके हैं पार्टी से बगावत

राहुल गांधी के सबसे करीबियों में से एक सचिन पायलट कांग्रेस से बगावत कर चुके हैं। हालांकि कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व से भरोसा मिलने के बाद लौट आए। लेकिन अभी भी मांगे नहीं पूरी होने से नाराज चल रहे हैं। ऐसे में संभव है कि जल्द उनकी मांगे पूरी नहीं होने पर कांग्रेस को छोड़ सकते हैं।

मिलिंद देवड़ा भी के सुर भी पार्टी विरोधी

कांग्रेस के वरिष्ठ युवा नेता मिलिंद देवड़ा के सुर भी पार्टी विरोधी हैं। हाल ही में गुजरात की भाजपा सरकार के फैसले की सोशल मीडिया पर तारीफ की है। गुजरात सरकार की ओर से रेस्टोरेंट, वाटर पार्क आदि के बिजली बिल और प्रॉपर्टी टैक्स माफ किए जाने की तारीफ की है। इसके अलावा कई मौकों पर पार्टी की आलोचना भी कर चुके हैं। ऐसे में आशंका है कि राहुल गांधी के काफी करीबी रहे मिलिंद देवड़ा भी पार्टी से दूर जा सकते हैं।

और पढ़ें
Next Story