Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तालिबानी मानसिकता: सीएम योगी बोले- अखिलेश यादव अपनी टिप्पणी के लिए मांगे माफी, जानें पूरा मामला

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अखिलेश यादव को अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगनी चाहिए।

तालिबानी मानसिकता: सीएम योगी बोले- अखिलेश यादव अपनी टिप्पणी के लिए मांगे माफी, जानें पूरा मामला
X

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना (Muhammad Ali Jinnah) की तुलना महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi), जवाहरलाल नेहरू और सरदार सरदार वल्लभभाई पटेल (Jawaharlal Nehru and Sardar Sardar Vallabhbhai Patel) से करने के लिए आलोचना की है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अखिलेश यादव को अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगनी चाहिए, जिसमें उन्होंने जिन्ना और अन्य का उल्लेख करते हुए कहा कि 'वे सभी भारत की आजादी के लिए लड़े' थे।

सीएम योगी ने कहा कि समाजवादी पार्टी प्रमुख ने रविवार को जिन्ना की तुलना सरदार वल्लभभाई पटेल से की, यह बेहद शर्मनाक है। यह तालिबानी मानसिकता है जो विभाजित करने में विश्वास करती है। सरदार पटेल ने देश को एकजुट किया। वर्तमान में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक भारत, श्रेष्ठ भारत को प्राप्त करने के लिए काम चल रहा है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि बीते रविवार को अखिलेश यादव ने माधौगंज में गांधी, पटेल और नेहरू के साथ जिन्ना का नाम भी जोड़ दिया था। अखिलेश यादव ने रविवार को भारत रत्न सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान उन्होंने कहा था कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, सरदार पटेल, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था से पढ़कर निकले।

बैरिस्टर बने और उन्होंने अंग्रेजों से आजादी दिलाई। आजादी के लिए हर तरह का संघर्ष किया। भाजपा के लोग वाकई पटेल जी को मानते हैं तो तीनों कृषि कानून रद करें। इस दौरान अखिलेश ने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि सरकार 4.5 साल में अपने शिलान्यास किए हुए एक भी काम का उद्घाटन नहीं कर पाई है।

Next Story