Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम हेमंत बिस्वा सरमा बोले- बिना वैक्सीन वालों की रविवार से सार्वजनिक स्थानों पर एट्री बैन, ममता सरकार ने कोविड प्रतिबंधों को 31 जनवरी तक बढ़ाया

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पश्चिम बांगाल की ममता बनर्जी सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कोविड-19 प्रतिबंधों को 31 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया है।

सीएम हेमंत बिस्वा सरमा बोले- बिना वैक्सीन वालों की रविवार से सार्वजनिक स्थानों पर एट्री बैन, ममता सरकार ने कोविड प्रतिबंधों को 31 जनवरी तक बढ़ाया
X

कोरोना वायरस (Corona Virus) की रफ्तार पर काबू पाने के लिए कई राज्य सरकारों ने कड़े फैसले किये हैं। इसी क्रम में असम सरकार ने यह ऐलान किया है कि जो व्यक्ति कोरोना वैक्सीन नहीं लेगा उसे सार्वजनिक स्थलों पर प्रवेश नहीं मिलेगा। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, असम की सीएम हेमंत बिस्वा सरमा (CM Hemant Biswa Sarma) ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि जिन्होंने वैक्सीन (Vaccine) की दोनों डोज़ नहीं ली है, उन्हें कल से सार्वजनिक स्थानों जैसे ज़िला न्यायालयों, होटलों, बाजारों आदि में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। असम (Assam) में अभी लॉकडाउन की स्थिति नहीं है, लेकिन मास्क पहनना अनिवार्य है।

ममता सरकार ने कोविड-19 प्रतिबंधों को 31 जनवरी तक बढ़ाया

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पश्चिम बांगाल की ममता बनर्जी सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कोविड-19 प्रतिबंधों को 31 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया है। ममता सरकार ने कोरोना संकट के बीच राज्य में खुले मैदानों में मेलों के आयोजन की इजाजत तो दे दी है लेकिन सख्त आदेश भी जारी किए हैं। ममता सरकार ने राज्य में शादी समारोहों की भी अनुमति दी है।

जिसके अनुसार अधिकतम 200 मेहमानों या विवाह स्थल की क्षमता के 50 प्रतिशत, जो भी कम हो, के साथ विवाह समारोह आयोजित किए जा सकेंगे। इसके अलावा स्वास्थ्य, कानून-व्यवस्था, कृषि उपज समेत जरूरी वस्तुओं के परिवहन और अन्य इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर, लोगों और वाहनों की आवाजाही सहित सभी बाहरी गतिविधियों को रात 10 बजे से सुबह के 5 बजे के बीच सख्ती से प्रतिबंधित किया गया है।

वैक्सीन नहीं लेने पर स्कूल में प्रवेश नहीं मिलेगा

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हरियाणा सरकार ने आज कहा है कि 15 से 18 वर्ष तक के जो बच्चे कोरोना वायरस वैक्सीन की डोज नहीं लेंगे उन्हें स्कूलों में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

Next Story