Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महाराष्ट्र में 15 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, सीएम उद्धव ठाकरे ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर दिया बड़ा बयान

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि राज्य सरकार हर एक जिले की स्थिति का जायजा लेकर खास क्षेत्रों में प्रतिबंधों में ढील देगी या और कड़ा करेगी इस पर निर्णय लेगी।

महाराष्ट्र में 15 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, सीएम उद्धव ठाकरे ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर दिया बड़ा बयान
X
CM Uddhav Thackeray

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य में 15 दिन और लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला ले लिया है। यानी अब महाराष्ट्र में एक जून से 15 जून तक पाबंदियां रहेंगी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे कोरोना वायरस की तीसरी लहर के खिलाफ लोगों को आगाह करते हुए अपील की है कि वह अपने बचाव में कोई कमी ना रखें। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि राज्य सरकार हर एक जिले की स्थिति का जायजा लेकर खास क्षेत्रों में प्रतिबंधों में ढील देगी या और कड़ा करेगी इस पर निर्णय लेगी। कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि मुझे नहीं पता कि तीसरी लहर कब और किस तारीख को आएगी।इसलिए हमें अपने बचाव में कोई कमी नहीं रखनी चाहिए।

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि मरीजों की संख्या में कमी के बावजूद हम पिछले साल (2020) के चरम के करीब हैं। राज्य सरकार की 'माझा डॉक्टर' पहल फैमिली डॉक्टरों तक पहुंचने में मदद करेगी ताकि बिना लक्षण वाले मरीजों में ज्यादा दवा सेवन की प्रवृत्ति और अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति उत्पन्न होने से बचा जा सके। सीएम ने बताया कि बीते वर्ष के मुकाबले इस साल पुराना वर्ष के प्रकार में अंतर है। इस बार का संक्रमण ज्यादा खतरनाक है, मरीजों को ठीक होने में समय लग रहा है। और यह संक्रमण बहुत तेजी के साथ भी फैल रहा है। अब हमारे सामने एक और राक्षस फंगस आ गया है जिसका मुकाबला हमें करना है। राज्य में म्यूकोरमाइकोसिस यानी ब्लैक फुंगस के 3000 मामले हैं।

कोरोना वायरस कार्य बल इस पर नजर रख रहा है। सीएम ने आगे कहा कि अच्छी बात यह है कि रिकवरी रेट अब 92 प्रतिशत हो गया है।मृत्यु दर भी कम हो गई है। आगे कहा कि शहरों में कोविड के मामले कम हो रहे हैं, वहीं राज्य के ग्रामीण इलाकों में तेजी ये वायरस लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। कोरोना वायरस की तीसरी लहर से बचने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जा रही है।

Next Story