Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चंद्रबाबू नायडू बायोग्राफी

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने हाल ही में राज्य हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की। जिसमें दावा किया है कि उनकी सुरक्षा व्यवस्था छीनी जा रही है। जिसके बाद आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा में शामिल सुरक्षाकर्मियों की संख्या की जानकारी मांगी है। आंध्र प्रदेश सरकार को इस मामले में हलफनामा भी देना होगा।

चंद्रबाबू नायडू बायोग्राफीChandrababu Naidu biography

Chandrababu Naidu Biography

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने हाल ही में राज्य हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की। जिसमें दावा किया है कि उनकी सुरक्षा व्यवस्था छीनी जा रही है। जिसके बाद आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा में शामिल सुरक्षाकर्मियों की संख्या की जानकारी मांगी है। आंध्र प्रदेश सरकार को इस मामले में हलफनामा भी देना होगा। बता दें कि माओवादी हमले के बाद चंद्रबाबू नायडू को जेड प्लास (Z+) सिक्योरिटी दी गई थी। बता दें कि बीते जून महीने में गन्नवरम एयरपोर्ट पर पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की तलाशी ली गई थी। चंद्रबाबू नायडू को वीआईपी सुविधा से भी वंचित कर किया गया उन्हें विमान तक पहुंचे ने के लिए आम यात्रियों के साथ शटल बस में यात्रा करनी पड़ी।

चंद्रबाबू नायडू बायोग्राफी (चंद्रबाबू नायडू जीवनी)

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू का जन्म चित्तूर जिले के नारावारिपल्ली नामक गांव में 20 अप्रैल 1950 को हुआ था। चंद्रबाबू नायडू ने श्री वेंकटेश्वर विश्वविद्यालय तिरुपति से अर्थशास्त्र में मास्टर्स की उपाधि हासिल की है। एन चंद्रबाबू नायडू के नाम आंध्र प्रदेश में सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहने का कीर्तिमान भी है। चंद्रबाबू नायडू वर्तमान में विधानसभा में सदन के नेता हैं।



















चंद्रबाबू नायडू शिक्षा

चंद्रबाबू नायडू ने चंद्रागिरी में स्कूली शिक्षा पूरी की। इसके बाद वह उच्च शिक्षा के लिए तिरूपति आए और यहां पर श्री वेंकटेश्वर विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में एमए करने के बाद पीएचडी की डिग्री भी हासिल की। पीएचडी के दौरान ही चंद्रबाबू नायडू का राजनीति में प्रवेश हुआ।

चंद्रबाबू नायडू राजनीतिक जीवन

एन चंद्रबाबू नायडू अपने छात्र जीवन से ही राजनीति में सक्रिय रहे हैं। एन चंद्रबाबू नायडू के राजनीतिक जीवन में निर्णायक मोड़ तब आया जब साल 1978 में पहली बार चंद्रागिरि से आंध्र प्रदेश विधानसभा के लिए चुने गए। चंद्रबाबू नायडू 28 साल की उम्र में विधायक बने। एन चंद्रबाबू नायडूस कुछ समय तक राज्य के लघु उद्योग के निदेशक के रूप काम किया था। इसके बाद चंद्रबाबू नायडू पशुपालन, सार्वजनिक पुस्तकालय, तकनीकी शिक्षा और लघु सिंचाई मंत्री बने। वे साल 1985 से तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के महासचिव रहे। नायडू 1989-94 में वे कुप्पम विधानसभा क्षेत्र से चुने गए। इस दौरान नायडू ने वित्त और राजस्व विभाग को संभाला।

साल 1981 में एन चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एनटी रामाराव की बेटी भुवनेश्वरी से विवाह किया। एनटी रामाराव प्रसिद्ध फिल्म अभिनेता और तेलुगु देशम पार्टी के संस्थापक थे। एनटीआर का दामाद होना एन चंद्रबाबू नायडू के लिए अच्छा रहा क्योंकि टीडीपी में उनकी तेजी से प्रगति हुई। लेकिन नायडू ने राजनीति में अपना नाटकिय ढंग से अलग ही खेल खेला और एक सितंबर 1995 को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चुने गए। एन चंद्रबाबू नायडू ने अपने ससुर एनटी रामाराव को रातोरात पद से हटाया और सीएम पद की कुर्सी को हासिल कर लिया। उन्होंने बाद में अपनी सास, बेटे और अन्य दामाद की चुनातियों का सामना किया। मुख्यमंत्री पद पर रहने पर उन्होंने विकास कार्य कर लोगों के दिलों में प्रेमी राजनेता की छवि बना ली। एन चंद्रबाबू नायडू ने राज्य के सभी जिला मुख्यालयों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जोड़ाने की पहल है, उनके प्रयास से यह संभव भी हो पाया। चंद्रबाबू नायडू 1999 में राज्य के दूसरी बार मुख्यमंत्री चुने गए।


साल 1999 में एन चंद्रबाबू नायडू ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के गठन में अहम भूमिका निभाई। चंद्रबाबू नायडू ने पार्टी (टीडीपी) राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में भाजपा के बाद सबसे अधिक सांसदों वाली पार्टी थी। 13वीं लोकसभा में उनकी पार्टी के 29 सांसद थे। एन चंद्रबाबू नायडू ने वाजपेयी सरकार को समर्थन दिया था। लेकिन उन्होंने सरकार में शामिल होने से इनकार कर दिया था। एन चंद्रबाबू नायडू ने हमेशा केंद्र सरकार पर दबाव बनाए रखा था। उनके नजरे केवल आंध्र प्रदेश पर ही थी क्योंकि उनका मुकाबला कांग्रेस पार्टी से था। लेकिन दो बार सत्ता पर काबिज रहे नायडू को आख़िरकार कांग्रेस से हार का सामना करना ही पड़ा।

एन चंद्रबाबू नायडू के नाम ये रिकॉर्ड

* एन चंद्रबाबू नायडू सबसे लंबे समय तक आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वह 1995- 2004 तक आंध्र प्रदेश के सीएम रहे।

* टाइम मैगजीन की वोटिंग में वे साउथ एशियन ऑफ द ईयर चुने गए।

Next Story
Top