Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केंद्र सरकार ने दी बड़ी खबर, कोरोना वैक्सीन गर्भवती महिलाओं के लिए है सुरक्षित, बांझपन का नहीं कोई कारण

नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल (Dr. VK Paul) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जानकारी देते हुए बताया कि देश की चारों वैक्सीन गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है।

केंद्र सरकार ने दी बड़ी खबर, कोरोना वैक्सीन गर्भवती महिलाओं के लिए है सुरक्षित, बांझपन का नहीं कोई कारण
X

केंद्र सरकार ने जहां एक तरफ मॉडर्ना वैक्सीन (Moderna Vaccine) को लेकर आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दी तो वहीं दूसरी तरफ स्तनपान और गर्भवती महिलाओं के लिए वैक्सीन कितनी सुरक्षित है, इसकी जानकारी भी साझा की। सरकार ने कहा कि जल्द ही इसको लेकर एडवाइजरी जारी कर दी गई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल (Dr. VK Paul) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जानकारी देते हुए बताया कि देश की चारों वैक्सीन गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है और इसके अलावा स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी कोई नुकसान नहीं है।

डॉ वीके पॉल ने बताया कि जल्द ही गर्भवती महिलाओं के लिए टीकाकरण से जुड़ी एडवाइजरी की भी घोषणा कर दी जाएगी। वीके पॉल ने कहा कि कोवैक्सिन (Covaxin), कोविशील्ड (Covishield), स्पुतनिकवी (Sputnik V) और मॉडर्ना ये सभी वैक्सीन गर्भवती महिलाओं और स्तनपान करवाने वाली माताओं के लिए सुरक्षित है। फिलहाल, अभी आगे की जांच चल रही है। एनटीएजीआई के कोविड-19 वर्किंग ग्रुप के अध्यक्ष डॉ नरेंद्र कुमार अरोड़ा ने साफ किया कि कोविड-19 टीके से नपुंसक या बांझपन का कोई कारण नहीं है।

जानकारी के लिए बता दें कि सरकार ने मंगलवार को सिप्ला कंपनी की मॉडर्ना वैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल के लिए हरी झंडी दिखा दी है। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने मंजूरी दी। अब देश में चार वैक्सीन उपलब्ध होंगी। आगे कहा कि जल्द ही फाइजर के साथ बातचीत अंतिम चरण में है। ये वैक्सीन भी जल्द उपलब्ध होगी।

वहीं दूसरी तरफ स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने भी जानकारी दी कि देश में कोरोना के मामलों में 91 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। कोरोना का पीक कम हुआ है। देश में 531 जिलों में से अब 262 जिले ही रह गए हैं। देश में अभी भी 111 जिले ऐसे हैं जहां पर हर दिन रोजाना 100 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं।

Next Story