Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केंद्र सरकार ने मंकीपॉक्स की निगरानी के लिए टास्क फोर्स का गठन किया, वीके पॉल करेंगे टीम का नेतृत्व

भारत में मंकीपॉक्स के मामले धीरे धीरे बढ़ रहे हैं। बीते दिनों आंध्र प्रदेश के गुंटूर में आठ वर्षीय एक लड़के में मंकीपॉक्स के लक्षण पाए गए थे। जिसके बाद उसके सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं।

केंद्र सरकार ने मंकीपॉक्स की निगरानी के लिए टास्क फोर्स का गठन किया, वीके पॉल करेंगे टीम का नेतृत्व
X

भारत (India) में कोरोना वायरस के साथ साथ मंकीपॉक्स (Monkeypox) के केसों में धीरे-धीरे बढ़ोतरी हो रही है। जिस कारण सरकार की चिंता और बढ़ गई है। इसी बीच केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) ने मंकीपॉक्स के मामलों की निगरानी के लिए टास्क फोर्स का गठन किया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉक्टर वीके पॉल (Dr VK Paul) टीम का नेतृत्व करेंगे।

बता दें कि भारत में मंकीपॉक्स के मामले धीरे धीरे बढ़ रहे हैं। बीते दिनों आंध्र प्रदेश के गुंटूर में आठ वर्षीय एक लड़के में मंकीपॉक्स के लक्षण पाए गए थे। जिसके बाद उसके सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। रिपोर्ट का इंतजार है। बता दें कि भारत सरकार मंकीपॉक्स को लेकर अलर्ट मोड में है। मंकीपॉक्स के मद्देनजर एयरपोर्टों, बंदरगाहों पर निगरानी तेज कर दी गई है।

13 जुलाई को देश में मिला पहला केस

गौरतलब है कि भारत के केरल में पिछले महीने 13 जुलाई को मंकीपॉक्स का पहला संक्रमित केस मिला था। केरल के कोल्लम शहर के रहने वाले 35 वर्षीय मरीज यूएई से लौटने के बाद 14 जुलाई को मंकीपॉक्स से संक्रमित पाया गया था। इसके तत्काल बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा कि मरीज के सभी नमूनों की 2 बार जांच हुई।

नमूनों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई। वहीं, मरीज भी शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ है और उसके त्वचा के धब्बे पूरी तरह से ठीक हो गए हैं। मरीज को अस्पताल से जल्द डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक, देश में अब तक मंकीपॉक्स के पांच केसों की पुष्टि हो चुकी है।

और पढ़ें
Next Story