Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कृषि विधेयकों के खिलाफ जंतर मंतर पर कांग्रेस विधायकों के साथ धरने पर बैठे कैप्टन अमरिंदर, सिद्धू भी आए साथ

सीएम अमरिंदर सिंह जंतर-मंतर पर धरना देने के लिए दिल्ली पुहंचे। कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के लगातार विरोध के चलते केंद्र सरकार ने पंजाब में रेल सेवा रोक दी है। पंजाब में रेल सेवा रोके जाने के बाद से ब्लैक आउट का खतरा बढ़ गया है। इस मुद्दे पर धरना देने के लिए सीएम अमरिंदर सिंह कांग्रेस विधायकों और पार्टी के अन्य नेताओं के साथ दिल्ली पहुंचे हैं।

कृषि विधेयकों के खिलाफ जंतर मंतर पर कांग्रेस विधायकों के साथ धरने पर बैठे कैप्टन अमरिंदर, सिद्धू भी आए साथ
X

जंतर मंतर पर धरना

पंजाब में बिजली का संकट गहराता जा रहा है। इस संकट ने पंजाब की परेशानी बढ़ा दी है। इसकी सबसे बड़ी वजह केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन है। किसानों ने रेलवे ट्रैक पर कब्जा जमा रखा है जिसकी वजह से मालगाड़ियों का परिचालन ठप हो गया है। और पंजाब में कोयले की आपूर्ति बाधित हो गई है। इसी समस्या के समाधान के लिए सीएम अमरिंदर सिंह जंतर-मंतर पर धरना देने के लिए दिल्ली पुहंचे।

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के लगातार विरोध के चलते केंद्र सरकार ने पंजाब में रेल सेवा रोक दी है। पंजाब में रेल सेवा रोके जाने के बाद से ब्लैक आउट का खतरा बढ़ गया है। इस मुद्दे पर धरना देने के लिए सीएम अमरिंदर सिंह कांग्रेस विधायकों और पार्टी के अन्य नेताओं के साथ दिल्ली पहुंचे हैं।

पंजाब में बिजली संकट गहराया

पंजाब में बिजली संकट के बादल छा गए हैं। यहां बिजली की पूर्ति के लिए कोयले की कमी हो रही है। इसी वजह से पंजाब में तीन से चार घंटे तक बिजली की कटौती होने लगी है। खाद की किल्लत होने लगी है। उद्योगों में सामान का स्टॉक बढ़ने लगा है। पंजाब सरकार ने इन सब मसलों को लेकर केंद्र के खिलाफ विरोध जताना शुरू कर दिया है। धरने पर बैठने से पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस सांसदों के साथ राजघाट पहुंचे।

कांग्रेस के विधायक भी राजघाट से जंतर मंतर पहुंचे हैं। कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि हम जंतर-मंतर पर धरना दे रहे हैं। गांधी जी 1909 में कहा था कि भारत का मतलब लाखों किसान होता है। हमारा इरादा राष्ट्रपति से मिलने का था। इसमें राज्यपाल की कोई भूमिका नहीं थी। इस बीच, दिल्ली में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 2.30 बजे कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की बैठक बुलाई है। इसमें दिल्ली की अगली रणनीति पर विचार किया जाएगा।

कैप्टन बोले - हमारे साथ सौतेला बर्ताव किया जा रहा

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिल्ली में कहा कि हमारे साथ सौतेला बर्ताव किया जा रहा है। हमारा बिल राष्ट्रपति तक नहीं पहुंचा है। मैंने एक सप्ताह पहले केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल से बात की थी। किसान संगठन साफ कर चुके हैं कि वो रेल सेवाओं को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे। मैं स्टेशनों पर पुलिस तैनात करने के लिए तैयार हूं। रेल सेवा बंद होने से राज्य में कोयला की कमी हो गई है। इसकी वजह से बिजली की किल्लत हो गई है।

Next Story